खोज

Vatican News
गाज़ा पट्टी पर हमला गाज़ा पट्टी पर हमला  (AFP or licensors)

पवित्र भूमि ˸ कारितास इंटरनैशनल की गाज़ा के लिए अपील

फिलीस्तीनी एवं इस्राएल के बीच हो रहे संघर्ष में अनेक निर्दोष लोगों की मौत हुई है एवं कई लोग घायल हुए हैं।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

पवित्र भूमि, मंगलवार, 18 मई 2021 (वीएनएस)- अंतरराष्ट्रीय समुदायों द्वारा युद्धविराम संधि हेतु जोर दिये जाने के बावजूद, इस्राएल की ओर, हमास द्वारा दाग गये रॉकेट के जवाब में इस्राएली सैनिकों की घनी आबादी क्षेत्र गाज़ापट्टी में हवाई हमला जारी है। आज रात इस्राइली सेना ने हमास की ओर से लगभग नब्बे रॉकेट दर्ज किए, जिनका जवाब उसने वायु सेना के साथ 65 लक्ष्यों पर हमला करके दिया।

विरोध प्रदर्शन की शुरुआत से, 3,440 रॉकेट लॉन्च किये गये है, जिनमें से 90% को आयरन डोम सुरक्षा प्रणाली द्वारा निष्फल किया गया है।

इस विकट स्थिति में, कारितास इंटरनैशनल ने कल एक आवश्यक अपील जारी की है कि बमबारी से प्रभावित लोगों को चिकित्सा सुविधा प्रदान की जाए। जमीनी स्तर पर, कारितास येरूसालेम हजारों घायल लोगों की मदद करने की तैयारी कर रही है जिनमें से कई लोग घर छोड़कर भागने के लिए मजबूर हैं।

कारितास येरूसालेम की महासचिव सिस्टर ब्रिजिट तिग्हे ने कहा, "बम विस्फोट बेहद तीव्र हैं। गाजा के लोगों ने कई सालों तक कई युद्धों का सामना किया है किन्तु सभी महसूस कर रहे हैं कि इस बार यह उन सबसे अलग है। वे हिंसक हवाई बमबारी और शरण पाने के लिए जगह की कमी के साथ, इस घनी आबादीवाले भूभाग में फंस गए हैं।" उन्होंने बतलाया कि 365 वर्ग किलोमीटर के इस भूभाग में जहाँ करीब 2 मिलियन से अधिक लोग रहते हैं और इस्राएली घेराबंदी के कारण भागना असंभव है, स्थिति अत्यन्त खराब है। "लोग स्कूल घरों में शरण लेकर अपनी जान बचाने की कोशिश कर रहे हैं, जहाँ 14 मई तक 17,000 लोग शरण ले चुके हैं।"

फिलीस्तीनी सूत्रों के अनुसार, 10 मई को तनाव की शुरूआत होने से लेकर अब तक 212 फिलीस्तिनियों की मौत गाज़ा में हो चुकी है जिनमें 61 बच्चे थे। करीब 1,400 से अधिक लोग घायल हो चुके हैं। इस्राएल में रॉकेट से 10 लोगों के मरने की खबर है जिनमें से एक बच्चा था और करीब 294 लोग घायल हो गये हैं। फिलीस्तीन में एक माँ के साथ 4 बच्चों की मौत हवाई हमले में हुई जो कारितास क्लिनिक के निकट अल शती शरणार्थी शिविर में रहते थे। कारितास क्लिनिक को इस समय बंद कर दिया गया है।   

सिस्टर ने बतलाया कि "लगातार बमबारी कारितास येरूसालेम को काम करने नहीं दे रहा है किन्तु जब युद्ध विराम हो जाएगा तब यह अपना काम करेगा। हम अपने क्लिनिक में बाह्य रोगी आघात देखभाल और आवश्यक प्राथमिक स्वास्थ्य देखभाल प्रदान करेंगे। यही स्थिति क्लिनिक मोबाईल और मेडिकल टीम की भी है। कारितास को भूभाग के विभिन्न क्षेत्रों में मेडिकल देखभाल, भोजन एवं अन्य बुनियादी आवश्यकताओं को प्रदान करने के लिए पर्याप्त संसाधनों की जरूरत है।   

शत्रुता की इस नई वृद्धि में, मृत्यु के भार के साथ, लगभग 40 हजार फिलिस्तीनियों के विस्थापित होने और बमबारी के कारण 2,500 लोगों के अपने घरों को खोने की स्थिति के साथ मानवीय संकट की जोखिम बढ़ गयी है।

18 May 2021, 15:05