खोज

Vatican News
गाज़ा में हमला के बाद ध्वस्त इमारतें गाज़ा में हमला के बाद ध्वस्त इमारतें  (AFP or licensors)

यूके के धर्माध्यक्षों द्वारा पवित्र भूमि में शांति हेतु प्रार्थना

ग्रेटब्रिटेन के धर्माध्यक्षों ने पवित्र भूमि में शांति हेतु प्रार्थना का आह्वान किया है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

ग्रेटब्रिटेन, बृहस्पतिवार, 13 मई 2021 (वीएनएस)- धर्माध्यक्षों के अंतरराष्ट्रीय मामलों के अध्यक्ष एवं खासकर, पवित्र भूमि के लिए समन्वय के अध्यक्ष मोनसिन्योर डेक्लान लांग ने विश्वासियों का आह्वान करते हुए कहा, "चिंता, भेदभाव और मानवाधिकारों के उल्लंघन, जिनके कारण नागरिकों के खिलाफ हिंसक हमले बढ़ रहे हैं, फिलीस्तीन एवं इस्राएल के लिए स्थिर एवं शांतिमय भविष्य हेतु बाधक है।"   

 

इंगलैंड एवं वेल्स के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन ने अपने वेबसाईट पर एक आह्वान जारी करते हुए कहा है, "शांति के लोगों की तरह, हम प्रार्थना करते हैं कि हवाई हमले, गोलीबारी, मिसाई हमले और सामुदायिक हिंसा का अंत हो जो पवित्र भूमि तो बुरी तरह प्रभावित कर रहा है। संत पापा फ्रांसिस ने याद दिलायी है कि हरेक हिंसक कृत्य जिसको दूसरे मानव व्यक्ति के खिलाफ किया जाता है वह मानवता के शरीर पर एक घाव है; हर हिंसक मौत हमारी इंसानियत को कम करता है।"

"इसलिए हम येरूसालेम की अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिष्ठा प्राप्त स्थिति के प्रति अपनी प्रतिबद्धता की पुष्टि करते हैं, इसके पवित्र स्थलों की प्रतिष्ठा एवं शहर में यहूदियों, ख्रीस्तियों तथा मुसलमानों के समान अधिकार को पुष्ट करते हैं।"

धर्माध्यक्षों ने कहा है कि इस संकटपूर्ण समय में वे मानवीय सहायता पहुँचाने वाले संगठनों को अपना समर्थन देते हैं जो जीवन बचाने एवं पीड़ा कम करने के लिए अथक रूप से कार्य कर रहे हैं।

 

13 May 2021, 15:59