खोज

ब्राजील का अमाजोन क्षेत्र ब्राजील का अमाजोन क्षेत्र  (AFP or licensors)

संदिग्ध ने लापता पत्रकार, आदिवासी विशेषज्ञ की हत्या की बात कबूली

ब्राजील पुलिस ने पुष्टि की है कि एक मछुआरे ने पत्रकार डोम फिलिप्स और आदिवासी विशेषज्ञ ब्रूनो परेरा की गोली मारकर हत्या करने की बात कबूल की है। संदिग्ध व्यक्ति ने उन्हें जंगल में एक दूरस्थ गुप्त स्थान में दफना दिया था, जहां मानव अवशेषों का पता चला है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

हालांकि टुकड़े-टुकड़े किए गए शवों की औपचारिक रूप से फोरेंसिक पहचान किया जाना बाकी है, पत्रकार डोम फिलिप्स और आदिवासी विशेषज्ञ ब्रूनो परेरा की तलाश अब खत्म हो गई है, जो 5 जून को गायब हो गए थे।

उन्हें आखिरी बार जवारी घाटी के प्रवेश के पास इटाकोई नदी पर उनकी नाव पर देखा गया था, जो कि जनजातियों का क्षेत्र है।

पेरू के साथ सीमा के पास, अमाजोन वर्षा वन के इस सुदूर क्षेत्र के कई हिस्से कोकीन की तस्करी, मछली अवैध शिकार, वनों की कटाई के कारण अवैध कटाई और अवैध सोने के खनन से ग्रस्त हैं।

संदिग्ध ने स्वीकार किया

पुलिस जांचकर्ता जासूस एडुआर्डो अलेक्जेंड्रे फोंटेस का कहना है कि मछुआरे अमरिल्डो दा कोस्टा डी ओलिविएरा ने हत्याओं को कबूल कर लिया है और मान लिया है कि उसने शवों को जंगल में एक दूरस्थ स्थान पर लेकर दफना दिया था जहां मानव अवशेष पाए गए।

उनके भाई ओसेनी, जिन्हें भी गिरफ्तार किया गया है, उसने किसी भी संलिप्तता से इनकार किया है। पुलिस का कहना है कि वे इस अपराध के मकसद की जांच कर रहे हैं और उम्मीद है कि और लोगों को गिरफ्तार किया जाएगा।

डोम फिलिप्स एक किताब पर शोध कर रहे थे, जो वे अमाजोन में यहाँ के आदिवासी लोगों के लिए हर सम्मान और शिष्टाचार के साथ सतत् विकास के बारे में लिख रहे थे। जिसके लिए उन्हें तथा उनके सहयोगी ब्रूनो परेरा को क्रूर हिंसा की घटना में अपनी जान गंवानी पड़ी।

 

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

16 June 2022, 17:26