खोज

Vatican News

फिलीपींस के विश्वासियों से पोप, विश्वास में आगे बढ़ते रहें

फिलीपींस के विश्वासियों को फिलीपींस में सुसमाचार की 500वीं वर्षगाँठ पर प्रेषित अपने वीडियो संदेश में संत पापा फ्राँसिस ने विश्वास के तीन रहस्यों पर प्रकाश डाला। वे तीन रहस्य हैं – नाजरेथ, क्रूस और पेंतेकोस्त।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, रविवार, 4 अप्रैल 2021 (रेई)- फिलीपींस में सुसमाचार प्रचार की 500वीँ वर्षगाँठ पर प्रेषित अपने वीडियो संदेश में संत पापा फ्राँसिस ने विश्वासियों को धन्यवाद दिया कि उन्होंने जीवन और येसु में विश्वास की मुफ्त रूप से प्राप्त कृपा को मुफ्त रूप से बांटा है।  

संत पापा ने वीडियो संदेश में 2015 में फिलीपींस में अपनी प्रेरितिक यात्रा के दौरान अंतिम मुलाकात की याद की जहाँ करीब सात मिलियन लोग उपस्थित थे। उन्होंने लोगों को सम्बोधित कर कहा था, "आप उदार हैं और विश्वास के पर्व को मनाना जानते है। उन गुणों को कठिनाइयों के बीच भी न खोयें।"

ईश्वर को धन्यवाद

संत पापा ने कहा, "तुम्हें मुफ्त में मिला है मुफ्त में दे दो" संत मती रचित सुसमाचार का यह वाक्यांश, विश्वास के वरदान के लिए धन्यवाद देने का निमंत्रण है अतः उन्होंने फिलीपींस के लोगों को धन्यवाद दिया है जिन्होंने कभी नहीं त्यागनेवाले ईश्वर में अपना बल और भरोसा का साक्ष्य दिया है। उन्होंने धीरज और कठिनाइयों के बीच हमेशा आगे देखने एवं चलते रहने के लिए उन्हें धन्यवाद दिया। 

नई पीढ़ी के लिए विश्वास का हस्तांतरण

संत पापा ने फिलीपींस में विश्वास की गहरी जड़ के लिए आभार प्रकट किया और इसके लिए तीन प्रतीकों को प्रस्तुत किया है : नाजरेथ, क्रूस और पेंतेकोस्त। जिस तरह मरियम और जोसेफ ने नाजरेथ में बालक येसु को बड़े प्यार से सिखाया, "आपने भी संत निनो, जो फिलीपींस में ख्रीस्तीयता के आगमन के प्रतीक है उनके लिए अपने परिवार का द्वार खोलकर, अपने माता-पिता से प्राप्त विश्वास को अपने बच्चों के लिए हस्तांतरित किया है।"

संत पापा ने कहा, "गहरी पारिवारिक भावना, भ्रातृत्व के समुदाय, एकता के लिए धन्यवाद जो आपको विश्वास में सुदृढ़, आशा में प्रसन्नचित एवं परोपकार में उदार बनाये रखता है।" 

नई शुरूआत

पेंतेकोस्त की ओर ध्यान आकृष्ट करते हुए संत पापा ने फिलीपींस के विश्वासियों को याद दिलाया कि पेंतेकोस्त "आगमन है किन्तु यह एक नई शुरूआत भी है।"  

उन्होंने येसु की माता की याद की जो उनके जीवन के सबसे कठिन समय में हमेशा उनके बगल में, उनके क्रूस के नीचे खड़ी थी। उन्होंने कहा कि वे हमें भी नहीं छोड़ती हैं। संत पापा ने उनकी मध्यस्थता द्वारा फिलीपींस में कलीसिया के नये पेंतेकोस्त के लिए प्रार्थना की।  

दूसरों तक पहुँचना

संत पापा ने कहा, "इस जयन्ती वर्ष में, येसु के शब्द : 'तुम्हें मुफ्त में मिला है मुफ्त में दे दो', हमारा मार्ग दर्शन करे।" ये शब्द ईश्वर को धन्यवाद देने का निमंत्रण है "उन लोगों के लिए जिन्होंने विश्वास को आपके लिए हस्तांतरित किया है।"

संत पापा ने फिलीपींस के विश्वासियों से आग्रह किया, "सुसमाचार प्रचार के लिए अपने उत्साह को पुनः जागृत करें। दूसरों तक पहुँचें और उनके बीच सुसमाचार की आशा एवं आनन्द लायें।"

उदारता एवं विश्वास

संत पापा ने विश्वासियों का आह्वान किया कि वे "नहीं डरें"। आप इस मिशन में अकेले नहीं हैं; आपकी भूमि के दो संत : संत पेद्रो कलुंगसोद और संत लोरेंत्सो रूइज आपका साथ दें।

वीडियो संदेश के अंत में संत पापा ने कहा, "आगे बढ़ते रहें; पोप हमेशा आपके बगल में हैं।"

04 April 2021, 11:00