खोज

Vatican News
संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्राँगण में देवदूत प्रार्थना के लिए उपस्थित विश्वासी संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्राँगण में देवदूत प्रार्थना के लिए उपस्थित विश्वासी 

बोलीविया के लिए प्रार्थना, कलीसिया के नये संत एवं नये धन्य

संत पापा फ्राँसिस ने देवदूत प्रार्थना के उपरांत बोलीविया के लिए प्रार्थना की तथा कलीसिया के नये संत एवं नये धन्य की याद की।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार, 11 नवम्बर 2019 (रेई)˸ संत पापा ने कहा, "कल स्पेन के ग्रानादा में धन्य अमिलिया रिक्वेलमी वाई जायास की धन्य घोषणा की गयी जो पवित्रतम संस्कार एवं निष्कलंक मरिया की मिशनरी धर्मबहनों के धर्मसंघ की संस्थापिका हैं।"

उसके बाद उन्होंने पुर्तगाल के ब्रागा में संत बार्थोलोमियो फेरनानदेस के शहीदों की संत घोषणा की धन्यवादी ख्रीस्तयाग की याद की। उन्होंने कहा कि नये धन्य, यूखरिस्त की आराधना तथा सबसे जरूरतमंद लोगों की सहायता करने के आदर्श हैं जबकि नये संत एक महान सुसमाचार प्रचारक एवं लोगों के चरवाहे थे। संत पापा ने ताली बजाकर दोनों को श्रद्धांजलि अर्पित की।

दक्षिणी सूडान से आह्वान

तत्पश्चात् संत पापा ने दक्षिणी सूडान के लोगों की याद कर, अपनी अपील दुहराते हुए कहा, "मैं देश के सभी कार्यकर्ताओं से ऐसी राष्ट्रीय राजनीतिक प्रणाली की खोज करने का आह्वान दोहराता हूँ जो एकता के सूत्र में बांधता एवं विभाजन से ऊपर उठने में मदद देता हैं।"

बोलीविया के लिए प्रार्थना

संत पापा ने बोलीविया की स्थिति की ओर ध्यान आकृष्ट करते हुए उसके लिए प्रार्थना करने की मांग की तथा बोलीविया के लोगों से, खासकर, राजनीतिक एवं धार्मिक कार्यकर्ताओं से अपील की कि वे निर्माणात्मक भावना एवं बिना किसी शर्त के शांति और स्थिरता के वातावरण में चुनाव जो वर्तमान में चल रहा है उसकी समीक्षा प्रक्रिया के परिणाम का शांति पूर्वक इंतजार करें।

धरती एवं परिश्रम के फलों के लिए धन्यवाद देने का राष्ट्रीय दिवस

संत पापा ने इटली में धरती एवं परिश्रम के फलों के लिए धन्यवाद देने के राष्ट्रीय दिवस की याद दिलाते हुए कहा, "मैं धर्माध्यक्षों के साथ रोटी और काम के बीच गहरे संबंध की याद करता हूँ तथा साहसी रोजगार नीतियों की उम्मीद करता हूँ जो प्रतिष्ठा और एकात्मता को सम्मान देता है तथा भ्रष्टाचार की जोखिम को दूर करता है ताकि श्रमिकों का शोषण न हो, सभी को उचित रोजगार मिल सके और उन्हें गुलाम बनना न पड़े।"

अंत में, उन्होंने देश-विदेश से एकत्रित सभी तीर्थयात्रियों एवं पर्यटकों का अभिवादन किया तथा उनसे प्रार्थना का आग्रह करते हुए सभी को शुभ रविवार की मंगलकामनाएँ अर्पित की।

11 November 2019, 15:52