बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
केरल में बाढ़ केरल में बाढ़  (AFP or licensors)

केरल के बाढ़ प्रभावित लोगों के प्रति संत पापा की सहानुभूति

संत पापा ने देवदूत प्रार्थना के उपरांत विश्व भर की विभिन्न घटनाओं की याद की तथा उनके प्रति सहानुभूति प्रकट की। उन्होंने विशेष रूप से केरल में बाढ़ पीड़ितों की याद करते हुए विश्व समुदाय से उनकी सहायता की अपील की। संत पापा ने देवदूत प्रार्थना में उपस्थित विभिन्न दलों का अभिवादन किया एवं उन्हें प्रोत्साहन दिया।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, सोमवार, 20 अगस्त 2018 (रेई)˸ देवदूत प्रार्थना के उपरांत उन्होंने भारत के केरल में आये बाढ़ से पीड़ित लोगों की याद करते हुए कहा, "विगत दिनों की भारी वर्षा से केरल के लोग तबाह हैं जिसके कारण बाढ़ एवं भूस्खलन हुए हैं और जिसमें कई लोगों की जानें गयीं हैं। अनेक लोग लापता हैं अथवा विस्थापित हुए हैं। बाढ़ ने फसल एवं घरों को भी नष्ट कर दिया है।"

बाढ़ पीड़ितों के लिए संत पापा की अपील

संत पापा ने अंतरराष्ट्रीय समुदाय से अपील की कि वह केरल के बाढ़ से पीड़ित भाई-बहनों के प्रति एकात्मता एवं ठोस सहायता प्रदान करे। उन्होंने केरल की कलीसिया के प्रति अपना सामीप्य प्रकट करते हुए उन सभी लोगों के लिए प्रार्थना की, जिन्होंने बाढ़ में अपना जीवन गवाँ दिया है तथा जिन्होंने इस प्राकृतिक आपदा की मार को गहराई से अनुभव किया है। उन्होंने केरल के सभी लोगों के लिए कुछ क्षण के लिए मौन प्रार्थना का आह्वान किया तथा प्रणाम मरियम की विन्ती की।

विभिन्न दलों को संत पापा का अभिवादन

तत्पश्चात् संत पापा ने संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्रांगण में एकत्रित इटली तथा विश्व के विभिन्न हिस्सों से आये सभी तीर्थयात्रियों का अभिवादन किया, खासकर, यूक्रेन के युवाओं को सम्बोधित कर प्रोत्साहन दिया कि वे शांति एवं मेल-मिलाप के अग्रदूत बनें। तब संत पापा ने रोम स्थित उत्तरी अमरीकी गुरूकुल के नये गुरूकुल छात्रों का अभिवादन किया, साथ ही साथ, वेरोना धर्मप्रांत के युवाओं की भी याद की।

अंत में, उन्होंने सभी से प्रार्थना का आग्रह करते हुए शुभ रविवार की मंगलकामनाएं अर्पित की। 

20 August 2018, 14:13