खोज

Vatican News
विश्व परिवार दिवस के दौरान आयरलैंड में प्रार्थना करते संत पापा एवं विश्वासी विश्व परिवार दिवस के दौरान आयरलैंड में प्रार्थना करते संत पापा एवं विश्वासी  (ANSA)

यौन दुराचार के शिकार लोगों के लिए प्रार्थना दिवस 28 फरवरी को

आयरलैंड की कलीसिया में यौन दुराचार के शिकार एवं उससे बचे हुए लोगों के लिए 28 फरवरी को, तीसरा प्रार्थना दिवस मनाया जायेगा।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

आयरलैंड, मंगलवार, 18 फरवरी 2020 (रेई)˸ प्रार्थना दिवस 2017 में आयरलैंड के काथलिक धर्माध्यक्षीय सम्मेलन द्वारा जारी किया गया है। इस दिन महागरिजाघर एवं देश के अन्य सभी पल्लियों के गिरजाघर में प्रायश्चित की मोमबत्ती जलायी जायेगी, जिसपर धर्माध्यक्षों की आशीष होगी तथा पश्चाताप की धर्मविधि के साथ एक विशेष प्रार्थना की जायेगी।

संत पापा फ्राँसिस ने 2018 में विश्व परिवार दिवस के समापन मिस्सा के दौरान इस अपराध के लिए प्रभु से दया एवं क्षमा की याचना की थी।  

आयरलैंड के महाधर्माध्यक्ष इयामोन मार्टिन ने बतलाया कि "मोमबत्ती जलाकर हम अपने भाई–बहनों की याद करेंगे जिनके भरोसे के साथ कलीसिया एवं उसके दुराचारियों के द्वारा बुरी तरह विश्वासघात किया गया था और जिनके विश्वास की परीक्षा क्रूरता से ली गयी थी।"

अर्माग्ह के महाधर्माध्यक्ष ने पीड़ितों के लिए प्रार्थना के महत्व एवं प्रायश्चित मोमबत्ती के प्रतीकात्मक मूल्य पर प्रकाश डालते हुए कहा कि यह "पश्चाताप, अंधकार में प्रकाश और आशा का चिन्ह है"। उन्होंने कहा कि यह स्मरण दिलाता है कि हम सभी को प्रायश्चित करना है, कलीसिया के रूप में दुराचार के शिकार लोगों की पीड़ा के लिए क्षमा मांगना है। अतः आयरलैंड के सभी धर्मप्रांतों एवं पल्लियों को इस पहल में भाग लेने का निमंत्रण दिया गया है।

महाधर्माध्यक्ष मार्टिन की उम्मीद है कि इस मोमबत्ती को जलाना, भविष्य में विश्वासियों के लिए प्रतिदिन की एक धर्मविधि बन जायेगी जो गिरजाघर में प्रवेशकर, यौन दुराचार के शिकार लोगों के लिए विशेष प्रार्थना चढ़ायेंगे।  

उन्होंने कहा, "मुझे पूर्ण विश्वास है वह प्रार्थना और पीड़ित लोगों की मदद, शारीरिक और आध्यात्मिक दया का एक आधुनिक काम है।"

इस दिन के लिए धर्माध्यक्षीय सम्मेलन की वेबसाईट पर धर्मविधिक मदद उपलब्ध है।

18 February 2020, 16:09