खोज

लेबनान में संयुक्त राष्ट्र अंतरिम बल लेबनान में संयुक्त राष्ट्र अंतरिम बल  (AFP or licensors)

लेबनान शांति मिशन पर आयरिश संयुक्त राष्ट्र सैनिक मारा गया

दक्षिणी लेबनान में संयुक्त राष्ट्र के एक शांतिरक्षक की गोली मारकर हत्या कर दी गई और तीन अन्य घायल हो गए।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

बेरुत,शनिवार 17 दिसंबर 2022 (वाटिकन न्यूज) : यह पुष्टि की गई है कि संयुक्त राष्ट्र शांति सेना के एक आयरिश सैनिक की मौत हो गई और तीन अन्य सैनिक इस घटना में घायल हो गए, जो तब हुआ जब बेरूत की यात्रा के दौरान एक संयुक्त राष्ट्र की बख्तरबंद जीप को शत्रुतापूर्ण भीड़ ने घेर लिया और गोलीबारी की।

वे 121वीं इन्फैंट्री बटालियन, यूएनआईएफआईएल (लेबनान में संयुक्त राष्ट्र अंतरिम बल) के सदस्य थे। हमले का कारण अस्पष्ट बना हुआ है।

आयरिश प्रधान मंत्री ने कहा कि हमले पर टिप्पणी करने से पहले पूरी जांच की प्रतीक्षा करना बुद्धिमानी होगी।

आयरिश रक्षा मंत्री साइमन कोवेनी ने आयरिश रेडियो नेटवर्क आरटीई को बताया, "दो बख्तरबंद वाहन प्रभावी रूप से अलग हो गए, उनमें से एक को शत्रुतापूर्ण भीड़ ने घेरा और गोलियां चलाई। दुर्भाग्य से हमारे शांति सैनिकों में से एक मारा गया और दूसरा बहुत गंभीर रूप से घायल हो गया।"

मारे गए सैनिक का नाम 23 वर्षीय सीन रूनी बताया गया है, जो डोनेगल काउंटी का रहने वाला था।

आरटीई ने बाद में बताया कि हिजबुल्लाह के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि एक "अनजाने में हुई घटना" के कारण शांति रक्षक की मौत हो गई और सशस्त्र समूह इसमें शामिल नहीं था।

लेबनान के प्रधान मंत्री नजीब मिकाती ने मौत पर गहरा अफसोस जताया और जांच की मांग की।

121वीं इन्फैंट्री बटालियन, यूएनआईएफआईएल की स्थापना 1970 के दशक के अंत में लेबनान से इजरायल की वापसी की पुष्टि करने और क्षेत्र में अंतर्राष्ट्रीय शांति और सुरक्षा बहाल करने के लिए की गई थी।

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

17 December 2022, 16:08