खोज

शर्म अल शेख में यूएन जलवायु सम्मेलन में सम्बोधित करते कार्डिनल पीयेत्रो परोलिन शर्म अल शेख में यूएन जलवायु सम्मेलन में सम्बोधित करते कार्डिनल पीयेत्रो परोलिन  (AFP or licensors)

कोप 27˸ दुनिया जलवायु अराजकता की ओर बढ़ रही है, यूएन प्रमुख

जलवायु पर संयुक्त राष्ट्र वार्षिक सम्मेलन, कोप 27 में भाग लेने के लिए विश्व के करीब 100 से अधिक नेता मिस्र के लाल सागरीय शहर शर्म अल शेख पहुँचे हैं। जिसका उद्देश्य है गैस उत्सर्जन कटौती के संघर्ष में गति लाना।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

शर्म अल शेख में यूएन जलवायु सम्मेलन के प्रथम दिन, संयुक्त राष्ट्र ने चेतावनी दी कि जब तक ग्लोबल वार्मिंग को रोकने के लिए कठोर कार्रवाई नहीं की जाती, दुनिया तेज गति से जलवायु अराजकता के चौड़े रास्ते पर आगे बढ़ती रहेगी।

अतः यूएन महासचिव अंतोनियो गुटेरेस ने विश्व नेताओं से एक जोरदार अपील करते हुए कहा, "मानवता को सहयोग देना होगा अन्यथा वह नष्ट होगी।" उन्होंने विकसित देशों से कहा कि उन्हें अपने वादे पूरे कर विकासशील देशों की नवीकरणीय ऊर्जा की ओर बढ़ने में सहायता करनी चाहिए।

और उन्होंने दुनिया के दो सबसे बड़े उत्सर्जक, संयुक्त राज्य अमेरिका और चीन का आह्वान किया, तथा कहा कि उनकी एक विशेष जिम्मेदारी है।

गुटेरेस की अपील का समर्थन करते हुए फ्राँस के राष्ट्रपति एम्मानुएल माक्रोन ने प्रतिध्वनित किया। उन्होंने कहा कि अमरीका, चीन एवं अन्य गैर यूरोपीय देशों को जलवायु परिवर्तन से निपटने में मदद देने के लिए "अपना हिस्सा" चुकाना चाहिए।

अमरीका के पूर्व उप-राष्ट्रपति अल गोर ने विश्व नेताओं को बतलाया कि वे "जीवाश्म ईंधन के प्रयोग को समाप्त करते हुए मौत पर जीवन का चुनाव करें, जो जलवायु परिवर्तन को भड़काता है।"

नई गैस परियोजनाओं को बढ़ावा देनेवाला ऊर्जा संकट

शिखर सम्मेलन के मौके पर पर्यावरण विशेषज्ञों ने चेतावनी दी है कि वर्तमान के वैश्विक ऊर्जा संकट ने जीवश्म ईंधन उद्योग को प्रोत्साहित किया है तथा कुछ देश नये गैस परियोजना पर निवेश करने की कोशिश कर रहे हैं खासकर, अफ्रीका।  

जलवायु कारर्वाई नेटवर्क के प्रवक्ता ने दावा किया है कि जीवश्म ईंधन कम्पनियाँ बातचीत को प्रभावित करने के लिए मिस्र में इस समय संयुक्त राष्ट्र जलवायु वार्ता में भाग ले रहे हैं।  

सम्मेलन 18 नवम्बर तक चलेगा। वाटिकन का प्रतिनिधित्व राज्य सचिव कार्डिनल पीयेत्रो परोलिन कर रहे हैं। वे मंगलवार को सभा को सम्बोधित करेंगे। 

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

08 November 2022, 16:22