खोज

यूक्रेन के शहर लविव पर रूसी हमले जारी यूक्रेन के शहर लविव पर रूसी हमले जारी  (Roman Baluk)

रूसी मिसाइल द्वारा पश्चिमी यूक्रेन पर हमला, कई की मौत

यूक्रेनी अधिकारियों का कहना है कि रूसी मिसाइलों ने पश्चिमी शहर लविव पर हमला किया है, क्योंकि मास्को के सैनिकों ने पूर्व में एक संभावित चौतरफा हमले की तैयारी में पूरे यूक्रेन में बुनियादी ढांचे पर हमले किए हैं।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

यूक्रेन, मंगलवार, 19 अप्रैल 2022 (रेई) ˸ सोमवार को यूक्रेन के पश्चिमी शहर लविव में घना काला धुंआ दिखाई पड़ा। यूक्रेनी अधिकारियों ने कहा कि रूसी मिसाइलों ने लविव पर हमला किया है जिसने युद्ध के लगभग दो महीनों के दौरान केवल छिटपुट हमले ही देखे थे।

वहाँ के महापौर ने बतलाया कि विस्फोट से खिड़कियाँ टूटी और आग जलना शुरू हुआ। उन्होंने कई लोगों के मरने एवं घायल होने का दावा किया है और उनमें से एक बच्चा भी है।  

प्रत्यक्षदर्शियों ने बतलाया कि लविव के पश्चिमी भाग में एक ट्रेन परिसर के बाहरी इलाके में कम से कम तीन प्रभावित स्थलों से आग की लपटें और धुएँ उठते दिखे।

यह शहर अन्य जगहों की तुलना में देश के विभिन्न हिस्सों के लोगों के लिए अधिक सुरक्षित था।  

लेकिन सोमवार के हमलों ने इस चिंता को रेखांकित किया कि रूस अपने प्रतिष्ठित मोस्कवा युद्धपोत के कथित यूक्रेनी मिसाइल हमले के बाद डूबने के कारण बदला लेना चाहेगा।

लविव पर हमला तब हुआ जब रूस ने यूक्रेन भर में हमलों की एक विस्तृत श्रृंखला शुरू की है, जिसको मास्को ने कहा कि 100 से अधिक सैन्य लक्ष्य थे।

पूर्वी आक्रामक

यह पूर्व में अधिक विनाशकारी आक्रमण की तैयारी थी। रूस ने हाल के दिनों में मध्य पूर्वी शहरों खार्किव और मारियुपोल पर और हमले किए हैं।  

इन शहरों को यूक्रेन की राजधानी कीव पर कब्जा करने के प्रयास के बाद अपने पड़ोसी के एक बड़े हिस्से पर नियंत्रण को मजबूत करने के मास्को के प्रयास के लिए महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि रूसी फौज ने खार्किव में नागरिक क्षेत्रों पर लगातार तीसरे दिन हमले किये हैं।  

रविवार को पूर्वी शहर पर एक मिसाइल हमले में पाँच लोगों की मौत हो गई जहाँ युद्ध शुरू होने के बाद से रूसी सेना द्वारा लगातार गोलाबारी की गई है।

यूक्रेन के प्रधानमंत्री डेनिस शमहाल ने मरियुपोल के समान अंत तक लड़ने का प्रण किया है जो प्रतिरोध का प्रतीक बन गया है।  

मारियुपोल में, सात सप्ताह की घेराबंदी में, यूक्रेनी प्रतिरोध सुरंगों से सजी एक विशाल इस्पात संयंत्र में छिपी थी।

मारियुपोल में अंतिम चेतावनी की अनदेखी

रूस ने बार-बार वहां की सेना से हथियार डालने का आग्रह किया है, लेकिन शेष लोगों ने रविवार को आत्मसमर्पण करने या मरने की अंतिम चेतावनी को नजरअंदाज कर दिया।

यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेन्सी ने पश्चिमी देशों से अपील की है कि मारियुपोल को न छोड़ दें जहाँ अधिकारियों का कहना है कि रूसी हमले में करीब 20,000 लोगों की मौत हुई है।  

जेलेन्सी ने कहा, "मारियुपोल में स्थिति बहुत खराब है। रूसी संघ ने जो किया है वह बिलकुल अमानवीय है। वे जानबूझकर हमारे शहरों को नष्ट कर रहे हैं। वे पूरी मर्जी से मारियुपोल के सभी लोगों को समाप्त करने की कोशिश कर रहे हैं।"  

उन्होंने कहा, "इसे दो ही तरह से प्रभावित किया जा सकता है। यदि हमारे साझेदार यूक्रेन को सभी भारी हथियार, जहाज और इसे बिना अतिशयोक्ति के तुरन्त प्रदान करें ताकि हम मारियुपोल पर दबाव कम करने एवं इसे मुक्त करने में सफल हो पायेंगे।"

रूस ने नागरिकों पर हमले से इंकार किया है किन्तु रिपोर्टरों ने बहुत अधिक विनाश देखी है।

कठिनाइयों के बीच, ख्रीस्तीयों ने ध्वस्त गिरजाघरों में जमा होकर, युद्धग्रस्त क्षेत्रों में शांति की उम्मीद करते हुए उसके लिए प्रार्थना की जहाँ से लाखों लोग विस्थापित हो चुके हैं।  

यूक्रेन जहाँ ख्रीस्तियों की संख्या 85 प्रतिशत है रोमन काथलिकों ने पास्का समारोह मनाया जबकि पूर्वी ऑर्थोडॉक्स प्रमुख ने युद्ध के बीच खजूर रविवार मनाया।

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

19 April 2022, 14:25