खोज

पेट्रोपोलिस में बाढ़ के बाद बचाव अभियान जारी पेट्रोपोलिस में बाढ़ के बाद बचाव अभियान जारी  (AFP or licensors)

ब्राजील में बाढ़ के बाद बचाव अभियान जारी

ब्राजील के पेट्रोपोलिस क्षेत्र में भारी बारिश के तूफान के कारण बाढ़ और भूस्खलन हुआ है, जिसमें 100 से अधिक लोगों के मारे जाने की सूचना है। मलवे हटाने और लापता लोगों की खोज जारी है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

ब्राजील,पेट्रोपोलिस, सोमवार 21 फरवरी 2022 (वाटिकन न्यूज) : पेट्रोपोलिस शहर में बचाव अभियान जारी है, जिसके कुछ हिस्से भूस्खलन से घिरे हुए हैं। मरने वालों की संख्या एक सौ से अधिक है और अभी भी काफी संख्या में लोग लापता हैं। लोगों ने तबाही के मंजर के वीडियो बना कर उन्हें सोशल मीडिया में साझा किया है, जिनमें घरों को मिट्टी में धंसे और कारों को मलबे के साथ बहते देखा जा सकता है. रियो डि जिनेरियो के गवर्नर क्लॉडियो कास्ट्रो ने कहा कि 400 लोग बेघर हो गए हैं और 24 लोगों को मलबे से जिंदा निकाला गया है।

बचाव अभियान

बचाव दल जंजीरों का उपयोग करके मलबे के टुकड़े करने के लिए बड़े फावड़े से खुदाई कर रहे हैं। उनके साथ खोजी कुत्ते भी हैं, जिनकी गंध और सुनने की भावना मानव सीमा से अधिक तीव्र है। पेट्रोपोलिस शहर जिसका नाम रोमन सम्राट के नाम पर रखा गया है, रियो डी जनेरियो शहर से 64 मील की दूरी पर स्थित है। ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोल्सनारो ने आपदा के बाद वहां से उड़ान भरी और भारी तबाही का वर्णन किया।

विशेषज्ञों का कहना है कि दशकों से जलवायु परिवर्तन ने अधिक वर्षा की शुरुआत की है और इसने भूमि को प्रभावित किया है, जिससे यह भारी हो गया है और पूरे क्षेत्र का भूस्खलन हो गया। गरीबी के कारण लोगों ने ऐसे पहाड़ी क्षेत्रों में अपने घरों का निर्माण किया है जो वास्तव में बसने के  लिए उपयुक्त नहीं है। उनके पास कहीं और जाने और बसने की सुविधा नहीं थी।

आरोप-प्रत्यारोप का खेल शुरू हो चुका है। रिपोर्टें सामने आ रही हैं कि रियो राज्य सरकार ने आपदा की रोकथाम के लिए अपने आवंटन के आधे से भी कम खर्च किया है। राज्य ने यह कहकर जवाबी कार्रवाई की है कि शहर तत्काल अनुरोधों का जवाब देने में विफल रहा है कि कितने लोगों को विभिन्न क्षेत्रों में स्थानांतरित किया गया था।

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

21 February 2022, 16:10