खोज

इदलिब में बर्फ से ढकी तम्बु और झोपड़ियाँ इदलिब में बर्फ से ढकी तम्बु और झोपड़ियाँ  (AFP or licensors)

यूएन राहत प्रमुख द्वारा सीरिया हेतु जीवनरक्षक सहायता का आग्रह

सीरिया में हिंसा लगातार बढ़ती जा रही है। सीरियाई लोग गंभीर आर्थिक और खाद्य संकट और कड़ाके की सर्दी के तूफान के तहत संघर्ष कर रहे हैं।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

न्यूयार्क, शनिवार 29 जनवरी 2022 (वाटिकन न्यूज) : संयुक्त राष्ट्र राहत प्रयासों के प्रमुख ने सदस्य देशों और उसके सहयोगियों से तत्काल जीवन रक्षक सहायता के साथ सीरियाई लोगों तक पहुंचने की अपील की है, क्योंकि देश गंभीर आर्थिक संकट और सर्दियों के तूफान का सामना कर रहा है। शीतकालीन तूफान ने 'विनाश का निशान' छोड़ा है।

"सीरियाई लोगों के लिए यह खत्म नहीं हुआ है और आपकी जिम्मेदारी भी खत्म नहीं हुई है, ” मानवीय मामलों के लिए संयुक्त राष्ट्र के उप-महासचिव और आपातकालीन राहत समन्वयक मार्टिन ग्रिफिथ्स ने गुरुवार को सुरक्षा परिषद को बताया।

हिंसा में उछाल

ग्रिफिथ्स ने विशेष रूप से 25 जनवरी को इस्लामिक स्टेट के आतंकवादियों द्वारा पूर्वोत्तर सीरिया की एक जेल पर घेराबंदी की ओर ध्यान आकर्षित किया, जिसमें उसके लगभग 3,000 लड़ाके और लगभग 700 बच्चे थे। संयुक्त राष्ट्र बाल कोष यूनिसेफ की रिपोर्ट का हवाला देते हुए, उन्होंने हसाकेह शहर में जेल के अंदर फंसे बच्चों के लिए चिंता व्यक्त की, जो सीरिया में सबसे बड़ी नजरबंदी सुविधाओं में से एक है, जिसे अमेरिका समर्थित सीरियाई कुर्द लड़ाके वापस लेने की कोशिश कर रहे हैं।

राहत समन्वयक ग्रिफिथ्स ने कहा, "कैदियों की दुर्दशा देश की स्थिति को दिखाती है। हम सीरियाई लोगों, युवा और बूढ़ों की सुरक्षा में विफल हो रहे हैं।" उन्होंने अफसोस जताते हुए कहा कि उन्हें न्यूनतम सुरक्षा, राहत और सामाजिक सेवाएं भी नहीं दी जाती हैं।

उन्होंने सदस्य देशों से संयुक्त राष्ट्र और अन्य प्रमुख मानवीय एजेंसियों के साथ एक नए दृष्टिकोण पर काम करने का आग्रह करते हुए कहा, "हर साल विफलता हमारी रणनीति नहीं हो सकती है।"

उपमहासचिव ने हिंसा में वृद्धि के बारे में भी बताया। 2022 की शुरुआत के बाद से, खेतों और पानी सहित बुनियादी ढांचों पर हवाई हमलों में वृद्धि हुई है। उन्होंने अपनी अपील दोहराई कि नागरिकों, विशेष रूप से बच्चों और नागरिक वस्तुओं की रक्षा की जानी चाहिए।

विस्थापित सीरियाई

सीरिया में एक दशक के युद्ध में 6.7 मिलियन से अधिक लोग आंतरिक रूप से विस्थापित हुए हैं, जबकि अन्य 6.8 मिलियन पड़ोसी देशों जैसे जॉर्डन, लेबनान और तुर्की में शरणार्थी के रूप में रहते हैं। सीरिया में अधिकांश विस्थापित लोग तंबूओं, अधूरी इमारतों में रहते हैं इस कड़ाके की सर्दियों में अपने को गर्म रखना उनके लिए बहुत ही कठिन हो गया है।

कड़ाके की सर्दी का मौसम

पिछले सप्ताह असामान्य रूप से सर्दियों के तूफान ने विनाश का निशान छोड़ दिया और पहले से ही महत्वपूर्ण मानवीय जरूरतों को और बढ़ा दिया। सर्दियों के तूफान से कम से कम 227 विस्थापन स्थल प्रभावित हुए हैं, जहाँ खुद को गर्म रखने के लिए लोगों को कचरा जलाने के लिए मजबूर होना पड़ा है। उन्होंने कहा कि दिसंबर में तंबुऔं में आग लगने से कम से कम 24 लोग घायल हुए थे और 2 की मौत हुई थी।

ग्रिफ़िथ ने बताया कि विस्थापन शिविरों या निरोध केंद्रों में लाखों लोग फंसे हुए हैं जिनके पास रहने की व्यवस्था तो है लेकिन अभी भी एक स्वस्थ आहार और विश्वसनीय स्कूली शिक्षा से वंचित हैं।

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

29 January 2022, 14:09