खोज

Vatican News
कारितास पाकिस्तान के कार्यकारी निर्देशक अमजद गुलज़ार कारितास पाकिस्तान के कार्यकारी निर्देशक अमजद गुलज़ार 

पाकिस्तानी कारितास अफ़गान शरणार्थियों के प्रति सतर्क

विश्व व्यापी काथलिक उदारता संगठन कारितास की पाकिस्तानी शाखा कारितास पाकिस्तान ने अफ़गानिस्तान की सीमा से संलग्न अपनी धर्मप्रान्तीय इकाईयों को तालेबान द्वारा अफ़गानिस्तान के अधिग्रहण तथा शरणार्थियों के आगमन के प्रति सचेत कर दिया है।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

पाकिस्तान, शुक्रवार, 20 अगस्त 2021 (रेई,वाटिकन रेडियो): विश्व व्यापी काथलिक उदारता संगठन कारितास की पाकिस्तानी शाखा कारितास पाकिस्तान ने अफ़गानिस्तान की सीमा से संलग्न अपनी धर्मप्रान्तीय इकाईयों को तालेबान द्वारा अफ़गानिस्तान के अधिग्रहण तथा शरणार्थियों के आगमन के प्रति सचेत कर दिया है।    

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार चमन बॉर्डर क्रॉसिंग से हज़ारों अफ़गानी नागरिक पाकिस्तान में प्रवेश कर गये हैं। हालांकि, पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख रशीद ने 18 अगस्त को दावा किया था कि पाकिस्तान में कहीं से भी कोई शरणार्थी प्रवेश नहीं कर रहा था और न ही पाकिस्तान की सरकार ने अफगानी शरणार्थियों को शरण देने की कोई योजना रखी है।   

कारितास पाकिस्तान

कारितास पाकिस्तान के कार्यकारी निर्देशक अमजद गुलज़ार ने इसके विपरीत कहा कि कम से कम 200 अफ़गानी परिवार बलूचिस्तान प्रान्त में क्वेटा के शहरी क्षेत्रों में आ चुके हैं। ऊका समाचार से उन्होंने कहा कि कारितास क्वेटा तथा कारितास इस्लामाबाद-रावलपिन्डी ने अपनी इकाईयों को संवेदनशील क्षेत्रों पर तैनात कर दिया है, ताकि उभरते मानवतावादी संकट का प्रत्युत्तर दिया जा सके।   

श्री गुलज़ार ने कहा कि शरणार्थी समस्या बहुत लम्बे समय तक चलती है इसलिये लघुकालीन ज़रूरतों के साथ-साथ दीर्घकालीन रणनीतियों पर विचार करना आवश्यक है। उन्होंने बताया कि तालिबान के बारे में किसी भी विवादास्पद सोशल मीडिया पोस्ट से बचने के लिए कर्मचारियों को सतर्क कर दिया गया है।

संयुक्त राष्ट्र संघीय शरणार्थी एजेन्सी यूएनएचसीआर के अनुसार, पहले से 14 लाख अफ़गानी शरणार्थी पाकिस्तान में रहते हैं, जिसमें 300,000 से अधिक ने कराची के दक्षिणी समुद्री बंदरगाह में शरण प्राप्त की है। इसके अतिरिक्त, उत्तर में खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में अफ़गानों के लिए 43 शरणार्थी शिविर हैं।

20 August 2021, 11:33