खोज

Vatican News
दारफूर की महिलाएँ राशन लेते हुए दारफूर की महिलाएँ राशन लेते हुए  (AFP or licensors)

सूडान के झड़पों में 40 लोग मारे गए

संयुक्त राष्ट्र के अनुसार, जातीय संघर्ष के दिनों के बाद सूडान के पश्चिम डारफुर क्षेत्र में कम से कम 40 लोग मारे गए।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

सूडान, बुधवार 7 अप्रैल 2021 (वाटिकन न्यूज) : संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि जातीय संघर्ष के दिनों के बाद सूडान के पश्चिम डारफुर क्षेत्र में कम से कम 40 लोग मारे गए हैं।

चाड के साथ सीमा के पास एल जेनिना में हुए झड़पों की वजह से सरकार ने शांति बहाल करने के लिए आपातकाल की स्थिति घोषित करने और सैनिकों को क्षेत्र में तैनात करने का निर्णय लिया है।

हथियारबंद लोगों द्वारा मसालित जनजाति के दो लोगों को गोली मारे जाने और दो अन्य लोगों को घायल किये जाने के बाद अरबिगीजेट और मसलित जनजातियों के सदस्यों के बीच लड़ाई शुरू हो गई।

गोलीबारी की सटीक परिस्थितियां तत्काल स्पष्ट नहीं हैं, हालांकि, सोमवार को दोनों जनजातियों के बीच गोलियाँ चलनी जारी रही, जिसमें 58 लोगों के घायल हो गये।

इस क्षेत्र में 2003 में युद्ध छिड़ा,जिसमें 250,000 से अधिक लोगों के मारे जाने का दावा किया गया और लाखों लोग विस्थापित हुए।

अंतरराष्ट्रीय शांति सैनिकों ने इस साल की शुरुआत में कार्यवाई शुरू की। सूडानी सरकार ने कहा कि समझौते के तहत एक नया संयुक्त शांति सेना नागरिकों की रक्षा करने में सक्षम होगी।

हालांकि, जनवरी के झड़पों में 200 से अधिक लोग मारे गए थे, कुछ दशकों में इस क्षेत्र में सबसे खराब रक्तपात हुआ था।

07 April 2021, 15:14