खोज

Vatican News
स्वास्थ्यकर्मी दिल्ली के गुरु तेज बहादुर अस्पताल से कोविद मरीज के शव बाहर ले जाते हुए स्वास्थ्यकर्मी दिल्ली के गुरु तेज बहादुर अस्पताल से कोविद मरीज के शव बाहर ले जाते हुए 

भारत: संक्रमणों के बढ़ते हालात, यूएन ने जताई गहरी चिन्ता

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डबल्यूएचओ) के महानिदेशक टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने भारत में कोविड-19 संक्रमण मामलों में आई तेज़ी पर गहरी चिन्ता जताई है। भारत में 24 घण्टों में, तीन लाख 47 हज़ार से ज़्यादा मामले दर्ज किये गए हैं और 2600 से ज़्यादा लोगों की मौत हुई है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

जिनीवा, शनिवार 24 अप्रैल 2021 (यूएन न्यूज) : भारत कोरोनावायरस संकट से सर्वाधिक प्रभावित देशों में है जहाँ हाल के दिनों में संक्रमण मामलों में भारी तेज़ी आई है। देश के अनेक राज्यों में बिगड़ते हालात के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन की टीम, जवाबी कार्रवाई और टीकाकरण अभियान में सरकारी एजेंसियों की मदद कर रही है:

यूएन स्वास्थ्य एजेंसी के महानिदेशक टैड्रॉस एडहेनॉम घेबरेयेसस ने भारत में संक्रमणों के बढ़ते मामलों व मौतों पर गहरी चिन्ता जताते हुए कहा कि देश में हालात जटिल हैं। “मैं भारत में हर किसी के प्रति अपनी गहरी सम्वेदनाएँ व्यक्त करता हूँ जिन्होंने अपने किसी प्रियजन को खोया है। इन परिस्थितियों से निपटने के लिये देश के अलग-अलग हिस्सों में भिन्न-भिन्न प्रकार की कार्रवाइयों की ज़रूरत होगी।”

यूएन एजेंसी प्रमुख ने देश में सामाजिक गतिविधियों व लोगों के मिलने-जुलने को कम करने और वैक्सीन उत्पादन को मज़बूती प्रदान करने के लिये सरकार द्वारा उठाए गए क़दमों का स्वागत किया है।

यूएन स्वास्थ्य एजेंसी भारत के साथ

उन्होंने कहा है कि यूएन स्वास्थ्य एजेंसी और उसके साझीदार संगठन, इस संकट की घड़ी में भारत की जनता व सरकार के साथ एकजुट हैं।

“मैं विश्व स्वास्थ्य संगठन औरएसीटी-अक्सीलेरेटर साझीदारों की ओर से, भारत सरकार व देश की जनता के साथ खड़े होने और इस संकल्प का भरोसा दिलाता हूँ कि जितनी बड़ी संख्या में लोगों की ज़िन्दगियाँ बचाई जा सकती हैं, उसके प्रयास किये जाएंगे।”

विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक़, देश में पोलियो, टीबी और अन्य टीकाकरण अभियानों से जुड़े, ढाई हज़ार से ज़्यादा कर्मचारियों की फिर से तैनाती की गई है। इसका मक़सद देश के कोरोनावायरस से प्रभावित प्रान्तों को ज़रूरी मदद प्रदान किया जाना है। साथ ही, ऑक्सीजन के उत्पादन, संयन्त्रों की देखरेख और अन्य प्रकार की तकनीकी मदद मुहैया कराई जा रही है।

महानिदेशक घेबरेयेसस ने कोरोनावायरस पर क़ाबू पाने के लिये हरसम्भव स्वास्थ्य औज़ारों के इस्तेमाल पर बल दिया है। “भारत में मौजूदा हालात, भयावह ढंग से आगाह करते हैं कि यह वायरस क्या कुछ कर सकता है, और क्यों हमें इससे निपटने के लिये व्यापक और एकीकृत तरीक़े से, हर औज़ार का इस्तेमाल करना होगा।”

विश्व भर में कोविड-19 संक्रमण के 14 करोड़ 56 लाख से ज़्यादा मामलों की पुष्टि हो चुकी है और 30 लाख86 000 से ज़्यादा लोगों की मौत हुई है

24 April 2021, 15:33