खोज

Vatican News
सैंडबैग के पीछे छिपते हुए  प्रदर्शनकारी सैंडबैग के पीछे छिपते हुए प्रदर्शनकारी 

500 से अधिक लोग म्यांमार के सैन्य जूंटा द्वारा मारे गए

विश्व के नेताओं ने सैन्य तख्तापलट नेताओं की निंदा की, क्योंकि म्यांमार में 500 से भी ज्यादा लोगों की मौत हो गई।रैलियाँ करते निहत्थे प्रदर्शनकारियों पर सैन्य बल द्वारा आंसू गैस, रबर की गोलियों और गोलियाँ चलाई गई।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

यांगून, बुधवार 31 मार्च 2021 (वाटिकन न्यूज) : एक स्थानीय गैर-सरकारी संगठन ने कहा है कि म्यांमार में सैन्य जुंटा द्वारा 1 फरवरी को चुनी हुई सरकार और उनके नेता आंग सान सू की के निष्कासन के विरोध में प्रदर्शन करने वाले 500 से ज्यादा लोगो की हत्या  की गई है।

29 मार्च तक, 510 लोगों को अब सुरक्षा बलों द्वारा मारे जाने की पुष्टि हो गई है, सैन्य टुकड़ी के नेतृत्व में सोमवार को राजनीतिक कैदियों के लिए सहायता संगठन (एएपीपी) ने कहा। एएपीपी ने फेसबुक पर अपने दैनिक अपडेट में कहा, "बच्चों, छात्रों, युवाओं और नागरिकों सभी को तख्तापलट के बाद से मार दिया गया है।" इस बीच, छापे, गिरफ्तारी, निरोध, वारंट और धमकी बेरोकटोक जारी है।

म्यांमार में दैनिक रैलियाँ करते निहत्थे प्रदर्शनकारियों पर सैन्य बल द्वारा आंसू गैस, रबर की गोलियों और गोलियाँ  चलाई गई। एएपीपी ने कहा कि सोमवार को मारे गए 14 नागरिकों में से, कम से कम 8 सबसे बड़े शहर यांगून के दक्षिण वैगन जिले में थे। संगठन ने कहा कि सोमवार को सुरक्षा बलों ने सैंडबैग की आड़ में शरण लिये हुए प्रदर्शनकारियों पर भारी कैलिबर हथियार से गोलीबारी की।

राज्य टेलीविजन ने कहा कि सुरक्षा बलों ने "हिंसक आतंकवादी लोगों" के रूप में वर्णित एक भीड़ को तितर-बितर करने के लिए "दंगा हथियारों" का इस्तेमाल किया। एक स्थानीय निवासी ने कहा कि सुरक्षा बल रात भर इस क्षेत्र में गोला बारी की। निवासियों ने सुबह सड़क से बुरी तरह से जले हुए शरीर को हटाते हुए सेना को देखा।

शनिवार को, जैसा कि जुंटा ने वार्षिक सशस्त्र सेना दिवस को परेड और अपनी सैन्य कौशल के प्रदर्शन के साथ चिह्नित किया, इस दिन एक ही दिन में कम से कम 107 लोग मारे गए, जिनमें 7 बच्चे थे।

निंदा

जैसा कि नागरिकों को मौत 500 के कुल योग को पार कर गई, विश्व शक्तियों ने लोकतंत्र की बहाली और सू की की रिहाई की मांग के खिलाफ सैन्य निर्मम अभियान की निंदा की।

वाशिंगटन ने म्यांमार के साथ एक व्यापार समझौते को निलंबित कर दिया और संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने हिंसा के खूनी सप्ताहांत में 100 से अधिक प्रदर्शनकारियों के मारे जाने के बाद संयुक्त राष्ट्र पर दबाव बनाने के लिए एकजुट वैश्विक मोर्चे का आह्वान किया।

गुटेरेस ने एक समाचार सम्मेलन में कहा, "उच्च स्तर पर लोगों के खिलाफ हिंसा बिल्कुल अस्वीकार्य है, इतने सारे लोग मारे गए,"। "हमें और अधिक एकता की आवश्यकता है ... (और) अंतर्राष्ट्रीय समुदाय से अधिक प्रतिबद्धता के लिए दबाव डालना ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि स्थिति को पलटा जाए।"

राजनयिक सूत्रों ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद बुधवार को बैठक कर स्थिति पर चर्चा करेगी।

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बिडेन के प्रशासन ने सोमवार को घोषणा की कि 2013 व्यापार और निवेश फ्रेमवर्क समझौता, जिसे व्यापार को बढ़ावा देने के लिए तरीके निर्धारित किए थे, जब तक कि लोकतंत्र बहाल नहीं हो जाता तब तक निलंबित रहेगा।

31 March 2021, 14:13