खोज

Vatican News
कोविद 19 की वैक्सीन भोपाल  में कोविद 19 की वैक्सीन भोपाल में  (ANSA)

'दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान' के लिए भारत तैयार

भारतीय एयरलाइंस ने मंगलवार को कोविद -19 वैक्सीन की 5.65 मिलियन खुराक की शिपिंग शुरू की। भारत में देशव्यापी टीकाकरण अभियान 16 जनवरी से शुरु हो जाएगा।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

नई दिल्ली, बुधवार 13 जनवरी 2021 (वाटिकन न्यूज) : भारत ने मंगलवार को "दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण अभियान" के रूप में वर्णित किए जाने की तैयारी में देश भर में कोविद -19 टीकों की खेपों को वितरित करना शुरू किया।

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसएसआई) द्वारा विकसित किए गए टीकों की पहली खेप मंगलवार को भारतीय शहर पुणे से रवाना हो गई। संस्थान से तापमान नियंत्रित ट्रकों पर लादे गए टीकों को शहर के हवाई अड्डे पर पहुँचाया गया, जहाँ से निजी हवाई जहाजों ने देश भर के विभिन्न गंतव्यों तक खेप पहुँचाई।

16 जनवरी से टीकाकरण शुरु

एक ट्वीट में, नागर विमानन मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने कहा कि एयर इंडिया, स्पाइसजेट, गो एयर और इंडिगो की उड़ानें दिल्ली, चेन्नई, कोलकाता, गुवाहाटी, शिलांग, अहमदाबाद, हैदराबाद, विजयवाड़ा, भुवनेश्वर, पटना, बेंगलुरु, लखनऊ और चंडीगढ़ को 5.65 मिलियन डोज पहुँचाने वाली हैं। दिल्ली और चेन्नई जाने वाली पहली दो उड़ानें हैं।

देश के 1.3 बिलियन लोगों के लिए टीकाकरण शनिवार को शुरू हो जाएगा, पहले अनुमानित 30 मिलियन डॉक्टर, नर्स और अन्य फ्रंटलाइन कार्यकर्ताओं को टीका दिया जाएगा। इस दौरान क़रीब 27 करोड़ ऐसे लोगों का डाटा जुटाया जाता रहेगा जिनकी उम्र 50 साल से ज्यादा है या कम मगर वे किसी न किसी गंभीर बीमारी से जूझ रहे हैं। 50 साल से नीचे की उम्र के वो लोग भी टीकाकरण अभियान में शामिल होंगे जिनमें कोरोना के सिमटम्स रहे हों। प्राथमिकता सूची में शामिल लोगों का टीकाकरण जुलाई के अंत तक पूरा होने की उम्मीद है।

दुनिया में कोविद -19 संक्रमण में संयुक्त राज्य अमेरिका के बाद दूसरे स्थान पर भारत है, महामारी की शुरुआत के बाद से 10.4 मिलियन से अधिक मामले दर्ज किये गये हैं, हालांकि दर धीमी रही है। अबतक 151,000 से अधिक लोग इस महामारी से मारे गए हैं।

वैक्सीन और जेनेरिक दवाओं के दुनिया के सबसे बड़े निर्माताओं में से एक, भारत, दुनिया की कोविद -19 वैक्सीन आपूर्ति का एक प्रमुख स्रोत होने की उम्मीद है। बीबीसी के अनुसार, देश दुनिया के 60% टीके का उत्पादन करता है। दुनिया का सबसे बड़ा उत्पादक, एसआईआई  एक महीने में 60 से 70 मिलियन वैक्सीन की खुराक देने में सक्षम है।

विदेश मंत्री सुब्रह्मण्यम जयशंकर ने कहा कि भारत सरकार कोरोनोवायरस के टीकों के निर्यात पर अगले कुछ हफ्तों में फैसला कर सकेगी।

13 January 2021, 14:23