खोज

Vatican News
लीबिया के राजनीतिक वार्ता मंच के सदस्य लीबिया के राजनीतिक वार्ता मंच के सदस्य  (AFP or licensors)

लीबिया: यूएन के नेतृत्व में वार्ता राजनीतिक भविष्य की दिशा में

लीबिया के राजनीतिक वार्ता मंच ने सोमवार को लीबिया के राजनीतिक भविष्य की योजना के लिए विचार-विमर्श शुरू किया। संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस की उम्मीद है कि यह संघर्ष-ग्रस्त देश के लिए "शांति और स्थिरता के एक नए युग का निर्माण" करने का अवसर है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

लीबिया, बुधवार 11 नवम्बर 2020 (वाटिकन न्यूज) : युद्धग्रस्त उत्तर अफ्रीकी देश में शांति बहाल करने के उद्देश्य से संयुक्त राष्ट्र के नेतृत्व में वार्ता के लिए सोमवार को लीबिया के विरोधी गुटों के प्रतिनिधि मिले।

लीबिया संघर्ष के विभिन्न प्रतिद्वंद्वी समूहों और राजनीतिक पक्षों का प्रतिनिधित्व करने वाले पचहत्तर प्रतिनिधियों ने ट्यूनिशिया के गामर्थ  में आयोजित लीबिया राजनीतिक वार्ता मंच में भाग लिया। मंच ने राष्ट्र के मामलों का प्रबंधन करने और जल्द से जल्द आम चुनाव कराने की योजना के लिए एक सहमति समझौता बनाने पर ध्यान केंद्रित किया।

राजनीतिक संवाद मंच से लंबे समय से चल रहे संघर्ष में विरोधी पक्षों द्वारा हस्ताक्षरित 23 अक्टूबर के युद्धविराम समझौते को और भी मजबूत करने की उम्मीद की जा रही है।

संत पापा फ्राँसिस

रविवार 8 नवम्बर को देवदूत प्रार्थना का पाठ करने के बाद, संत पापा फ्राँसिस ने प्रार्थना की कि लीबिया के राजनीतिक संवाद मंच की बैठकें "लीबिया के लोगों की लंबी पीड़ा का समाधान" खोजने की ओर ले जाएंगी।

संत पापा ने यह भी उम्मीद जताई कि "स्थायी संघर्ष विराम के लिए हालिया समझौते का सम्मान किया जाए और इसे स्वीकार किया जाए।" संत पापा ने मंच के प्रतिनिधियों के लिए प्रार्थना की।

संघर्ष को समाप्त करने का अवसर

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने कहा कि ये बैठकें मंच पर प्रतिनिधियों को दिए अपने वीडियो संबोधन में देश के लिए "दुखद संघर्ष को समाप्त करने और सम्मान तथा भविष्य का निर्माण करने का अवसर" था।

महासचिव गुटेरेस ने कहा, “अब अपने देश के भविष्य को आकार देने की आपकी बारी है। इस प्रक्रिया के प्रति आपकी प्रतिबद्धता लीबिया की संप्रभुता और लीबिया की लोकतांत्रिक वैधता को बहाल करने में मदद करेगी। जैसा कि आप अपने मतभेदों के माध्यम से संवाद में संलग्न हैं, आपके दृढ़ संकल्प का परीक्षण किया जाएगा।"

हालांकि, "समझौता एकमात्र दृष्टिकोण है जो राष्ट्रीय एकता के लिए मार्ग प्रशस्त करेगा, लीबिया का भविष्य अब उनके हाथों में है।"

लीबिया में संयुक्त राष्ट्र मिशन की प्रमुख, स्टेफ़नी विलियम्स ने कहा कि बैठकें "दुर्लभ आशावाद का समय, संकट के कई वर्षों के बाद आशा की एक किरण है।" विलियम्स ने यह भी जोर दिया कि "राष्ट्रीय राजनीतिक कार्यक्रम का व्यापक उद्देश्य राष्ट्रीय चुनावों द्वारा राजनीतिक वैधता को नवीनीकृत करना है।"

लीबिया संघर्ष

लीबिया में दो विरोधी प्रशासनों के बीच विभाजित सशस्त्र समूहों द्वारा उत्पन्न संघर्ष है: पश्चिमी राजधानी त्रिपोली में स्थित संयुक्त राष्ट्र की मान्यता प्राप्त सरकार राष्ट्रीय समझौता (जीएनए) और पूर्वी लीबिया के जनरल खलीफा हफ्तार के नेतृत्व में एक प्रतिद्वंद्वी प्रशासन।

अप्रैल 2019 में जनरल खलीफा हफ़्तार ने त्रिपोली पर आक्रमण शुरू किया लेकिन तुर्की से समर्थन के साथ जीएनए बलों द्वारा विरोध किया गया। लड़ाई में कई सौ लोग मारे गए और हजारों लोग विस्थापित हुए।

11 November 2020, 14:56