खोज

Vatican News
ईराक में संत कुँवारी मरियम गिरजाघर ईराक में संत कुँवारी मरियम गिरजाघर 

ईराक लौटने हेतु ख्रीस्तियों का आह्वान

ईराक के प्रधानमंत्री मुस्ताफा अल काज़ेमी ने कथित इस्लामिक स्टेट की हार के बाद ख्रीस्तियों का आह्वान किया है कि वे ईराक अपने घर लौटें।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

ईराक, बृहस्पतिवार, 13 अगस्त 20 (वीएन)- अस्सेरियन इंटरनैश्नल न्यूज एजेंसी ने रिपोर्ट किया है कि ईराक के प्रधानमंत्री मुस्ताफा अल काज़ेमी ने कथित इस्लामिक स्टेट की हार के बाद कहा है कि ईराक के विस्थापित ख्रीस्तीय वापस अपने घर लौटें।

रिपोर्ट में कहा गया है कि प्रधानमंत्री ख्रीस्तीय परिवारों की मदद करने और उनकी समस्याओं का समाधान करने के प्रति गंभीर हैं। उनका कहना है कि ईराक सबका देश था और ख्रीस्तीय, देश की मूल संतान हैं।   

"हम खुश हैं कि ख्रीस्तीय ईराक लौट आयेंगे और इसके पुनः निर्माण में अपना योगदान देंगे। ईराक की सभी जातियाँ एक नये ईराक के लिए तरस रहे हैं जो शांति पर विश्वास करता एवं हिंसा का बहिष्कार करता है।"

विगत रविवार को प्रधानमंत्री अल काज़ेमी ने ईराक में खलदेई काथलिक कलीसिया के प्राधिधर्माध्यक्ष कार्डिनल लुईस रफाएल प्रथम साको से मुलाकात की थी। कार्डिनल की उम्मीद है कि ईराक की सरकार, जनता की उम्मीदों को पूरा करती रहेंगी और देश द्वारा सामना की जा रही चुनौतियों का सामना करने में सक्षम हो पायेंगी।

उन्होंने कहा, "ख्रीस्तियों की एक बड़ी संख्या है जो ईराक लौटना चाहती है। कलीसिया ईराक में सुरक्षा और स्थिरता लाने हेतु अल काज़ेमी का समर्थन करती है। ख्रीस्तीय ईराकी होने पर गर्व महसूस करते हैं और वे ख्रीस्तीय फ़ाइल के साथ अल-काज़मी सरकार के गंभीर संचालन के प्रकाश में, अधिक आश्वस्त महसूस करते हैं।"

एड टू द चर्च इन नीड के अनुसार अनेक ख्रीस्तीय जो 2014 में पलायन कर चुके थे वे वापस लौट गये हैं किन्तु उन्हें सुरक्षा की कमी एवं धमकी के कारण कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।

13 August 2020, 16:43