खोज

Vatican News
अमेरिकी नागरिक अधिकार आंदोलन के अग्रणी जॉन  रोबर्ट लुईस अमेरिकी नागरिक अधिकार आंदोलन के अग्रणी जॉन रोबर्ट लुईस   (2020 Getty Images)

अमेरिकी नागरिक अधिकार आंदोलन के अग्रणी जॉन लुईस की मृत्यु

अमेरिकी कांग्रेसी जॉन रॉबर्ट लुईस, जो वाशिंगटन में 1963 मार्च के अंतिम जीवित वक्ता थे, नेल्सन मंडेला दिवस से एक दिन पहले, शुक्रवार 17 जुलाई को 80 वर्ष की आयु में निधन हो गया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

अटलांटा, सोमवार 20 जुलाई 2020 (वाटिकन न्यूज) : संयुक्त राज्य के नागरिक अधिकार आंदोलन के एक अग्रणी, जॉन लुईस ने 1963 मार्च को ‘नौकरी और स्वतंत्रता के लिए वाशिंगटन रैली’ का सह-आयोजन किया। डॉ. मार्टिन लूथर किंग जूनियर ने उस ऐतिहासिक रैली में अपना "आई हैव ए ड्रीम" भाषण दिया।

लुईस ने छात्र अहिंसक समन्वय समिति (एसएनसीसी) की स्थापना में भी मदद की, बाद में 1963 से 1966 तक वे इस समिति के अध्यक्ष के रूप में कार्य किया।

उन्हें 1987 में जॉर्जिया के 5वें कांग्रेस सभा के लिए प्रतिनिधि चुना गया था और शुक्रवार 17 जुलाई को उनकी मृत्यु तक वे पद पर बने रहे। डेमोक्रेटिक पार्टी के सदस्य, लुईस ने अटलांटा शहर का अधिकतर प्रतिनिधित्व किया।

 जीवन की लड़ाई

लुईस ने दिसंबर 2019 में खुलासा किया कि उन्हें अग्नाशय के कैंसर के स्टेज 4 का पता चला था।

खबर की घोषणा करते हुए उन्होंने कहा, “मैंने अपने पूरे जीवन में स्वतंत्रता, समानता, बुनियादी मानव अधिकारों के लिए अनेक चुनौतियों और लड़ाईयों का सामना किया। परंतु मुझे कभी भी इस तरह की लड़ाई का सामना नहीं करना पड़ा, जैसा मैंने अभी किया है।” उन्होंने खुद की विरासत के फलों को देखा।

उनके निधन पर श्रद्धांजलि

वाशिंगटन डीसी के महाधर्माध्यक्ष विल्टन ग्रेगोरी ने ट्वीट किया कि एक नागरिक अधिकार नेता लुईस और सीआर विवियन, जिनकी शुक्रवार को मृत्यु हो गई,  इन्होंने "हमारे राष्ट्र को सभी लोगों के लिए न्याय का घर होने का एहसास कराने में मदद की। इन्होंने हमेशा साहस और आशा के साथ हमारे देश की कई तरह से सेवा की - ईश्वर उन्हें अनंत आराम दें।"

सभा के अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी ने उन्हें "नागरिक अधिकारों के आंदोलन का एक शीर्ष" कहा, जिसकी भलाई, विश्वास और बहादुरी ने हमारे राष्ट्र को बदल दिया।

पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने उनके साथ हाल ही में हुई बातचीत का वर्णन किया। उन्होंने कहा कि लुईस ने जॉर्ज फ्लॉयड की मृत्यु के बाद कार्यकर्ताओं के प्रयासों के लिए गर्व व्यक्त किया, उन्हें "आजादी और समानता के लिए खड़ी एक नई पीढ़ी" कहा।

ओबामा ने कहा, “हममें से बहुत से लोगों को इस तरह के सार्थक, उल्लेखनीय तरीके से अपने जीवन में अपनी विरासत को फलते हुए देखना मुनासिब नहीं होता। जॉन लुईस ने अपने विरासत के फलों को देखा।”

लुईस और मंडेला

लुईस की मृत्यु नेल्सन मंडेला अंतर्राष्ट्रीय दिवस की पूर्व संध्या पर हुई - जिसे शनिवार को चिह्नित किया गया था – वे भी प्रसिद्ध नागरिक अधिकार नेता के रूप में जाने जाते थे।

मंडेला ने दक्षिण अफ्रीका के रंगभेद शासन के खिलाफ आंदोलन का नेतृत्व किया, जिसने नस्लीय अलगाव और सफेद विशेषाधिकार की एक प्रणाली लागू की। बाद में उन्होंने 1994 से 1999 तक देश के राष्ट्रपति के रूप में कार्य किया।

2013 में जब मंडेला का निधन हुआ, तो जॉन लुईस ने उनके निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया।

लुईस ने मंडेला के विषय में कहा, "पूरी मानवता ने पिछली सदी के सबसे प्रिय, प्रशंसनीय और प्रेरक नेताओं में से एक को खो दिया है।" "उन्होंने हमें दिखाया कि हम प्रत्येक, हमारे क्लेश के बावजूद, क्षमा करने की शक्ति रखते हैं, हम सबसे बुरे अपराधी के साथ सामंजस्य स्थापित कर सकते हैं ... उन्होंने हमें सिखाया कि मानव परिवार के सदस्यों के रूप में कैसे आगे बढ़ा जाए।"

20 July 2020, 10:14