खोज

Vatican News
सीरिया में विस्फोट के बाद का दृश्य सीरिया में विस्फोट के बाद का दृश्य  (AFP or licensors)

सीरिया के एक बाजार में विस्फोट, 40 की मौत

उत्तरी सीरिया के एक बाजार में हुए विस्फोट से लगभग 40 लोग मारे गए हैं और 50 से अधिक घायल हो गए हैं।

उषा मनोरमा तिर्की-वाटिकन सिटी

सीरिया, बृहस्पतिवार, 30 अप्रैल 20 (वीएन) -उत्तरी सीरिया के अफरीन शहर में एक ईंधन टैंकर के घातक विस्फोट में लगभग 40 लोग मारे गए और इसे तुर्की समर्थित बलों द्वारा नियंत्रित किसी भी क्षेत्र में सबसे घातक हमलों में से एक माना जा रहा है। मरने वालों की संख्या में अभी भी बृद्धि होने की आशंका है क्योंकि घायल हुए 50 लोगों में से कई की हालत गंभीर है।

तुर्की के सुरक्षा अधिकारियों ने कहा है कि हालांकि किसी ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है, लेकिन माना जा रहा है कि यह सीरिया के कुर्द लड़ाकों द्वारा किया गया है जो तुर्की से लड़ने वाले कुर्द आतंकवादियों से जुड़े हैं।

2018 में, तुर्की और संबद्ध सीरियाई लड़ाकों ने एक सैन्य अभियान में अफरीन के क्षेत्र पर नियंत्रण कर लिया था, जिसने स्थानीय कुर्द लड़ाकों को बाहर निकाल दिया था और हजारों कुर्द निवासियों को विस्थापित कर दिया था। अंकारा, अन्य पश्चिमी देशों के साथ कुर्द लड़ाकों को मानता है कि वे अफरीन के नियंत्रण में आतंकवादी थे। तब से, क्षेत्र में तुर्की के ठिकानों पर हमलों की एक श्रृंखला रही है।

सीरियाई कार्यकर्ताओं ने कहा कि भीड़ भरे बाजार में मंगलवार को हुए विस्फोट में कई लोग मारे गए और कई कारों और दुकानों को आग लगा दी गई। मरने वालों में 11 बच्चे थे।

तुर्की समर्थित विपक्षी लड़ाकों द्वारा नियंत्रित क्षेत्रों में इसी तरह के विस्फोटों ने हाल के महीनों में कई लोगों को मार दिया है। इन सभी हमलों के लिए अंकारा, कुर्द लड़ाकों पर दोष लगता है।

तुर्की, राष्ट्रपति बशर असद के खिलाफ युद्ध में सीरियाई विरोध का समर्थन करता है, लेकिन स्थानीय संघर्ष विराम की सुरक्षा और निगरानी के लिए रूस के साथ शामिल हो गया है।

 

30 April 2020, 15:30