खोज

Vatican News
स्ट्रासबर्ग के स्वास्थ्य कर्मी स्ट्रासबर्ग के स्वास्थ्य कर्मी 

कोविद -19: कमजोरों की रक्षा के लिए एक वैश्विक युद्ध विराम

संयुक्त राष्ट्र महासचिव और संत पापा फ्राँसिस ने एक वैश्विक युद्ध विराम की मांग की है। मानवीय संगठनों ने कोरोना वायरस द्वारा प्रवासियों और संघर्ष क्षेत्रों में रहने वाले नागरिकों के लिए खतरे को उजागर किया है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

न्यूयार्क, सोमवार 30 मार्च 2020 (वाटिकन न्यूज) : गत सप्ताह संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुटेरेस ने कोरोना वायरस का मुकाबला करने हेतु एक वैश्विक युद्धविराम अपील जारी की।

उन्होंने कहा, "वायरस का प्रकोप युद्ध की मूर्खता दिखा रहा है। इसी वजह से आज, मैं दुनिया के सभी कोनों में तत्काल वैश्विक युद्ध विराम के लिए कह रहा हूँ। कोविद -19 के खिलाफ सशस्त्र संघर्ष करने और हमारे जीवन की सच्ची लड़ाई पर एक साथ ध्यान केंद्रित करने का समय है।”

पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए, महासचिव ने यह भी कहा कि उनके विशेष दूत युद्धरत दलों के साथ मिलकर काम करेंगे ताकि संघर्ष विराम याचिका पर कार्रवाई हो सके।

महासचिव एंतोनियो की अपील को संत पापा फ्राँसिस ने रविवार को देवदूत प्रार्थना के उपरांत जोर देते हुए कहा, "महामारी के खिलाफ हमारी संयुक्त लड़ाई हर किसी को एक मानव परिवार के सदस्यों के रूप में भाई और बहन के संबंध को मजबूत करने की अत्यंत आवश्यकता है।"

सीरिया में खतरा

जैसा कि युद्ध जारी है, संयुक्त राष्ट्र ने सीरिया में लाखों लोगों पर कोविद-19 के संभावित प्रभाव के बारे में अपनी गहरी चिंता व्यक्त की है, विशेष रूप से, कई लोग जो वर्तमान में देश के उत्तर-पश्चिमी क्षेत्र में विस्थापित हैं।

विश्व स्वास्थ्य संगठन  ने सीरिया में कोविद-19 के पांच मामले दर्ज किए हैं, लेकिन अभी तक कोई मौत नहीं हुई है।

मानवीय मामलों के समन्वय के लिए संयुक्त राष्ट्र कार्यालय (ओसीएछए) ने कहा कि वर्तमान में "पूरे देश में 6 मिलियन से अधिक आंतरिक रूप से विस्थापित लोग हैं, और 2019 के अंत में केवल आधे सार्वजनिक अस्पताल और सार्वजनिक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पूरी तरह कार्यारत थे।"

यूएन ने यह भी कहा कि लीबिया में सुरक्षा की स्थिति एक वास्तविक खतरा थी और यह कि वहाँ एक बड़ा प्रकोप "पहले से ही फैली हुई मानवीय सहायता क्षमता को बढ़ा देगा।"

अंतरराष्ट्रीय काथलिक प्रवासन आयोग (आइसीएमसी) के महासचिव मोनसिन्योर रॉबर्ट विटिलो ने वाटिकन रेडियो से बात करते हुए कहा कि युद्ध विराम की तत्काल आवश्यकता है।

उन्होंने कहा, "मुझे पता है कि संयुक्त राष्ट्र महान संघर्ष और युद्ध के इन क्षेत्रों में युद्ध विराम की मांग कर रहा है। मुझे उम्मीद है कि तर्कसंगत सोच उस के सभी पक्षों को संभाल लेगी, ताकि हम युद्ध विराम कर सकें और हम इस नए युद्ध को संबोधित कर सकें; कोविद -19 के खिलाफ यह नया सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल है।"

मोन्सिन्योर विटिलो ने कहा कि युद्ध की इन स्थितियों में, "कई बार नियमित अस्पताल और नियमित चिकित्सा सेवाएं कार्य नहीं कर सकती हैं।"

उन्होंने यह भी कहा कि उनका संगठन यह सुनिश्चित करने के लिए काम कर रहा था कि सीरिया में लोग, विशेष रूप से नवजात शिशुओं और गर्भवती महिलाओं को चिकित्सा सेवा मिल सके।

30 March 2020, 13:21