खोज

Vatican News
फिलीपींस में आतंकवाद फिलीपींस में आतंकवाद  (ANSA)

क्रिसमस से पहले दक्षिणी फिलीपींस में आतंकवादी हिंसा

दक्षिणी फिलीपींस में क्रिसमस से 3 दिन पहले रविवार की शाम को मिस्सा समारोह दौरान मिंदानाओ द्वीप के कोटाबाटो महागिरजाघर के पास बम विस्फोट हुआ।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

कोटाबाटो, गुरुवार 26 दिसम्बर 2019 (वाटिकन न्यूज) : रविवार 22 दिसम्बर को हुए विस्फोट में 22 लोग घायल हो गए, जिनमें 12 सैनिक शामिल थे, जो गिरजाघर में गश्त लगा रहे थे। क्रिसमस की छुट्टियों के दौरान गिरजाघरों की सुरक्षा व्यवस्था की गई है। एक अन्य बम एक राहगीर को घायल करते हुए थोड़ी दूर पर विस्फोट किया।

"यह क्रिसमस के उत्सव की पूर्व संध्या पर किया गया कायरतापूर्ण कार्य है," कोटाबाटो स्थित निष्कलंक गर्भधारण महागिरजाघर के पल्ली पुरोहित फादर जाल्डी रोबेल्स ने कहा। "कलीसिया काथलिकों और गिरजाघरों पर हुए हमलों की कड़ी निंदा करता है।" उन्होंने वाटिकन के फीदेस समाचार एजेंसी को बताया।

फादर रोबल्स ने कहा कि विस्फोट उस समय हुआ जब गिरजाघर में मिस्सा समारोह चल रहा था। दहशत में राह चलने वाले लोगों ने गिरजाघर में शरण ली।

तनाव और भय के माहौल के बावजूद, कलीसिया के नेताओं ने स्थानीय लोगों से "क्रिसमस को खुशी और साहस के साथ मनाने से नहीं डरने" का आग्रह किया।

मगुइंडानाओ प्रांत में उपी शहर में एक अन्य विस्फोट में दो लोग घायल हो गए। स्थानीय पुलिस के अनुसार, एक पुलिस स्टेशन पर दूसरा बम फेंका गया, लेकिन वह विस्फोट नहीं हो सका।

 सेना और पुलिस घटनाओं की जांच कर रही है। अधिकारियों ने जनता से सतर्क रहने और कुछ भी संदिग्ध मामले कीरिपोर्ट करने की अपील की है।

कोटाबाटो के मेयर, सिंथिया गुआनी-सयादी ने कहा, "सुरक्षा उपायों को मजबूत किया गया है। परंतु हमलों की जिम्मेदारी अभी तक किसी ने नहीं ली है।”

उग्रवाद और आतंकवाद

मिंडानाओ में वेस्टर्न आर्मी कमांड के प्रवक्ता मेजर अरविन एनकिनस के अनुसार, आतंकवादी समूह जैसे कि "बैंग्समोरो इस्लामिक फ्रीडम फाइटर्स" (बीआईएफएफ) या स्वयंभू "इस्लामिक स्टेट" (आइसिस) हमलों के पीछे जुड़े हो सकते हैं।

फिलीपींस हिंसक विद्रोहियों से त्रस्त है, जिसमें मिंडानाओ में एक मुस्लिम-नेतृत्व वाले अलगाववादी विद्रोह शामिल है, जिसने कुछ 100,000 लोगों को मार डाला है।

26 December 2019, 16:26