खोज

Vatican News
कार्डिनल ग्रेशियस और गोवा सीएम प्रमोद कार्डिनल ग्रेशियस और गोवा सीएम प्रमोद 

पिलार धर्मसंघ मुख्यालय में गोवा मुख्यमंत्री दवारा सद्भाव पर जोर

गोआ के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने ओल्ड गोवा में स्थित पिलार धर्मसंघ के मुख्यालय का दौरा किया उनके कामों की सराहना की और उनके हर अच्छे काम में अपना समर्थन और सहयोग देने का आश्वासन दिया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

ओल्ड  गोवा, सोमवार 6 अक्टूबर, 2019 (मैटर्स इंडिया) : शनिवार 5 अक्टूबर को गोआ मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने ओल्ड गोवा में स्थित पिलार धर्मसंघ के मुख्यालय में अपनी पहली यात्रा के दौरान सद्भाव बनाए रखने की आवश्यकता पर जोर दिया।

‘सर्व धर्म सम भाव’ की अवधारणा पर प्रकाश डालते हुए, मुख्यमंत्री सावंत ने सभी धर्मों के अनुसरण वाले मार्गों की समानता को देखते हुए, सभी से शांति और एकजुटता से रहने का आग्रह किया।

सावंत ने भारत में काथलिक कलीसिया के प्रमुख और संत पापा फ्राँसिस के सलाहकारों में से एक, कार्डिनल ओसवाल्ड ग्रेशियस से भी मुलाकात की। कार्डिनल ग्रेशियस पिलार धर्मसभा की अध्यक्षता करने के लिए धर्मसंघ के मुख्यालय गये हुए थे ।

मुख्यमंत्री ने कार्डिनल ग्रेशियस से मिलने की प्रसन्नता व्यक्त की और दोनों नेताओं ने शांति और सद्भाव बनाए रखने के लिए अपनी सामान्य इच्छा और प्रयासों को व्यक्त किया।

मुख्यमंत्री ने कहा, ''हम गोवा को सुंदर और सौहार्द बनाए रखें।"

उन्होंने कहा कि पिलार मुख्यालय के दर्शन करने की उनकी बहुत इच्छा थी और पवित्र पहाड़ी पर जाने पर खुशी और शांति महसूस होती है।

सावंत ने भारत के दूरस्थ भागों में हाशिए पर जीने वालों और गरीबों की सेवा करने के लिए पिलार समुदाय की सराहना की। उन्होंने राज्य में उठाए गए उनके हर अच्छे काम में अपना समर्थन और सहयोग देने का आश्वासन दिया।

कार्डिनल ग्रेशियस ने भी मुख्यमंत्री से मिलने पर खुशी व्यक्त की और गोवा में सामान्य लोगों सेवा के लिए उनकी सराहना की।

इस अवसर पर, मुख्यमंत्री ने पिलार अनिमेशन सेंटर के एक सम्मेलन हॉल का उद्घाटन किया, जिसे कार्डिनल ग्रेशियस द्वारा आशीष दिया गया था।

धरमपुरी के धर्माध्यक्ष लोरेंस पायस, संत आंद्रे के विधायक फ्रांसिस्को सिलवीरा, अगसिम सरपंच जेवियर ग्रेसिया, पिलार धर्मसंघ के फादर जेनरल और प्रोविंशियल फादरगण भी इस कार्यक्रम में उपस्थित थे।

इस अवसर पर सुपीरियर जनरल फादर सेबी मस्करेनहास ने कहा, “पिलार समुदाय गोवा का चेहरा है जो गरीब और हाशिए पर जी रहे लोगों के बीच सामंजस्य और शांति फैला रहा है। हमें इन मूल्यों और लोकाचारों को संजो कर रखने की आवश्यकता है।”

07 October 2019, 17:10