खोज

Vatican News
भूकंप के बाद अपने घरों से बाहर रहते लोग भूकंप के बाद अपने घरों से बाहर रहते लोग  (AFP or licensors)

दशकों में अल्बानिया का सबसे बुरा भूकंप,100 से अधिक घायल

अल्बानिया के सबसे शक्तिशाली भूकंप के बाद लोग अपने घरों से भाग गए, भूकंप के कारण कम से कम 100 से अधिक लोग घायल हो गए।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

अल्बानिया, सोमवार 23 सितम्बर 2019 (वाटिकन न्यूज) : अल्बानिया में शनिवार को मध्य स्तर के झटके महसूस किये गये। रिक्टर स्केल में भूकंप की तीव्रता 5.6 मापी गई। भूकंप के कारण कम से कम 100 से अधिक लोग घायल हो गए। उन्हें अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। भूकंप के झटके से करीब 100 से भी अधिक घर या तो पूरी तरह से गिर गये और कुछ में भारी दरारें आ गई जो रहने लायक नहीं रह गई हैं।

भूकंप के झटके बंदरगाह शहर डुर्रेस से 4 किलो मीटर उत्तर में महसूस किये गये। यह जगह अल्बानिया की राजधानी तिराना के पच्छिम में है। बचावकर्मी अब डुर्रेस और तिराना में इमारतों की टूटी हुई खिड़कियों और गहरी दरारों का निरीक्षण कर रहे हैं। वे इस भूकंप से हुए नुकसान का आकलन कर रहे हैं।

100 से ज्यादा झटका

अधिकारियों का कहना है कि शनिवार दोपहर भूकंप के बाद 100 से अधिक झटके आए।

रक्षा मंत्री ओल्टा ज़ाका ने रविवार को एक कैबिनेट बैठक में बताया कि इतने झटके के बाद भी, "सौभाग्य से तेल के कुएं क्षतिग्रस्त नहीं हुए।" उन्होंने कहा कि देश में कुछ 30 वर्षों के दौरान शनिवार का भूकंप "सबसे मजबूत" था।

अड्रियाटिक और इओनियन समुद्र के नजदीक स्थित, अल्बानिया भूकंप-प्रभावित क्षेत्र है और जहाँ हर दिन भू-कंपन का एहसास किया जाता है।

प्रधानमंत्री की यात्रा रद्द

प्रधान मंत्री ईडी रामा ने संयुक्त राष्ट्र की वार्षिक बैठक हेतु यात्रा रद्द कर दी और आपदा से निपटने के लिए अल्बानिया लौट आए।

अधिकारियों ने कहा कि टाउन हॉल ने अब बेधर और अपने घरों के अंदर जाने में असमर्थ लोगों के लिए आश्रय स्थल खोल दिए हैं। यह यूरोप के सबसे गरीब देशों में से एक है।

23 September 2019, 16:26