खोज

Vatican News
22 मई 2018 को 17 सेवकों एवं 2 पुरोहितों की हत्या  का विरोध करती काथलिक धर्मबहनें और विश्वासी 22 मई 2018 को 17 सेवकों एवं 2 पुरोहितों की हत्या का विरोध करती काथलिक धर्मबहनें और विश्वासी  (AFP or licensors)

नाईजीरिया में काथलिक पुरोहित की हत्या

नाईजीरिया के एनुगु धर्मप्रांत में फादर पौल ओफ्फो की हत्या की खबर मिली है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

नाइजीरिया, शनिवार, 3 अगस्त 2019 (रेई)˸ एनुगु धर्मप्रांत द्वारा मिली जानकारी के अनुसार बृहस्पतिवार 1 अगस्त को किसी अज्ञात बंदूकधारी ने फादर पौल ओफ्फू की हत्या कर दी।  

फादर पौल एनुगु राज्य के ओकपातू गाँव के थे और यूगबावका स्थित संत जेम्स पल्ली के पल्ली पुरोहित थे। यह कहा गया है कि उन्हें संदिग्ध फुलानी चरवाहों द्वारा, अवगु के इहे-अगबुडु में सड़क पर गोली मार दी गई थी। संत मारकुस काथलिक चर्च के पल्ली पुरोहित फादर क्लेमेंट उग्वु की हत्या के ठीक पांच महीने बाद फादर ऑफु की हत्या हुई है। फादर क्लेमेंट उग्वु का अपहरण भी एनुगु राज्य में 20 मार्च को हुआ था और एक सप्ताह बाद एक झाड़ी में पाया गया था।

नाइजीरिया में, किसानों और फुलानी चरवाहों के बीच झड़प सैकड़ों लोगों की मौत और कई अन्य लोगों के विस्थापन का कारण बन रहा है।

घृणास्पद भाषणों को अंत किये जाने की अपील

फादर मैथ्यू हसन कूकाह ने सामाजिक संचार माध्यमों में फुलानी चरवाहों के विरूद्ध घृणास्पद भाषणों को अंत किये जाने की अपील की है क्योंकि इसके द्वारा नाइजीरिया की एकता और शांति को खतरा है।  

एक सेमिनार में फेक न्यूज़ और घृणात्मक भाषण पर फादर कुकाह ने कहा था कि नफ़रत फैलाने वाले भाषणों को दुनिया के किसी भी हिस्से में, नरसंहार की स्थिति आने से पहले की स्थिति माना जाता है। उन्होंने चेतावनी दी कि देश बहुत खतरनाक स्थिति में है। उन्होंने देश के नेताओं से आग्रह किया था कि वे स्थिति को नियंत्रण में करने हेतु सहायता दें। उन्होंने नाइजीरिया के लोगों से अपील की कि वे अपने भाइयों के रक्षक बनें और एक-दूसरे के साथ व्यवहार में जाति, धर्म की रूपरेखा पर अधिक ध्यान न दें।  

03 August 2019, 16:42