खोज

Vatican News
सूडान के युवा सूडान के युवा  (ANSA)

यूनिसेफ द्वारा सूडान के बच्चों की सुरक्षा की अपील

सूडान में यूनिसेफ के प्रतिनिधि अब्दूल्लाह फादिल ने कहा कि कोई भी बच्चा स्कूल यूनिफोर्म में दफनाया नहीं जाएगा।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

सूडान, मंगलवार, 30 जुलाई 2019 (रेई)˸ "मैं गोली से तबाह हो गया हूँ जिसमें हाईस्कूल के कुल 5 विद्यार्थियों की मौत हो गयी है और उत्तरी कोरदोफन के एल ओबिएद में दर्जनों गंभीर रूप से घायल हो गये हैं।" उक्त बात सूडान में यूनिसेफ के प्रतिनिधि अब्दूल्लाह फादिल ने कही। उन्होने कहा कि  परिवारों, विद्यार्थियों एवं समुदाय के प्रति अपनी हार्दिक संवेदना व्यक्त करते हैं।

ज्ञात हो कि सूडान में राजनीतिक अस्थिरता की स्थिति में स्कूल वर्ष की शुरूआत के विरोध में करीब 15 से 17 साल के बच्चे विरोध प्रदर्शन कर रहे थे। उसी दौरान उन पर सैनिकों ने गोली चला दी जिससे 5 विद्यार्थियों की मौत हो गयी और कई घायल हो गये।

कोई बच्चा यूनिफोर्म में दफनाया नहीं जाएगा

यूनिसेफ ने हिंसा में शामिल सभी लोगों को निमंत्रण दिया है कि अंतरराष्ट्रीय मानवीय कानून और मानवाधिकार सिद्धांतों के तहत दायित्वों के अनुरूप वे बच्चों की हमेशा रक्षा करें और उन्हें खतरों से दूर रखें।

यूनिसेफ ने सभी दलों का आह्वान किया है कि वे बाल अधिकारों के प्रावधानों एवं सूडान में बाल अधिनियम 2010 का सम्मान करें। बच्चों के खिलाफ कोई गंभीर अतिक्रमण न किया जाए और न ही उन्हें सैनिक दलों में भर्ती ही किया जाए।

यूनिसेफ ने सरकार से सवाल किया है कि वह बच्चों के खिलाफ हिंसा के सभी अपराधों की जांच करे और उसका रिपोर्ट पेश करे।

यूनिसेफ ने कहा है कि वह सूडान के बच्चों एवं उनके अधिकारों की रक्षा के लिए राष्ट्रीय प्रतिनिधियों एवं अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ काम करती रहेगी।

30 July 2019, 16:40