खोज

Vatican News
ईवा मोजेस कोर ईवा मोजेस कोर   (ANSA)

नाज़ियों को माफ़ करने वाली 85 वर्षीय ईवा की मृत्यु

ईवा कोर, जिसने नाजियों के हाथों भयानक अत्यचार और पीड़ा का अनुभव किया था और बाद में नाजी अपराधियों की माफ कर दिया, 85 वर्ष की आयु में मृत्यु हो गई।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

अमेरिका, शनिवार 6 जुलाई, 2019 (रेई) : अब इस बात की पुष्टि हो गई है कि ईवा मोजेस कोर का निधन पोलैंड की अपनी वार्षिक यात्रा के दौरान हुआ था, जहां उन्होंने ऑशविट्ज़ के शिविर का दौरा किया था।

रोमानिया में जन्मी, ईवा कोर और अपने यहूदी परिवार के साथ 1944 में ऑशविट्ज़ भेज दिया गया था।

वह और उसकी जुड़वां बहन मरियम बच गई, बाकी परिवार के सभी लोग मारे गये। लेकिन वे दोनों बहनें कुख्यात जोसेफ मेनगेले द्वारा दुर्व्यवहार का शिकार बनी, जिन्हें ‘मृत्यु के दूत’ के रूप में जाना जाता है।

गैस चैंबरों में मारे गए 1.1 मिलियन यहूदियों में से कई की मृत्यु के चयन में वह शामिल था और 1943 के ऑशविट्ज़ में एक डॉक्टर के रूप में, मेनगेले ने अपने भयानक चिकित्सा अनुभवों के हिस्से के रूप में 1,000 से अधिक जुड़वां और अन्य ऑशविट्ज़ कैदियों पर अत्याचार किया।

अनुभवों की याद

एक बार ईवा कोर ने अपने जीवन के कड़वे अनुभव को याद करते हुए कहा: "हम सप्ताह में छह दिन प्रयोगोशालाओं में उपयोग किए जाते थे, जिसमें तीन दिन नग्न बैठते थे।"

एक बार उसको तेज़ बुखार आया और उसे जीने के लिए दो सप्ताह का समय दिया गया, लेकिन वह ठीक हो गई। 1993 में स्वास्थ्य कठिनाइयों के कारण उसकी बहन की मृत्यु हो गई।

द्वितीय विश्व युद्ध के बाद जोसेफ मेनगेले गायब हो गया।  बाद में डीएनए परीक्षणों ने पुष्टि की कि वह 1979 में ब्राजील में डूब कर मरा था।

यहूदियों की हत्या

नाज़ियों ने द्वितीय विश्व युद्ध में छह मिलियन यहूदियों की हत्या कर दी।

लेकिन ईवा कोर ने इसे नाजी अपराधियों को माफ कर दिया, जिनमें से कुछ उसे मिले भी थे। "मैं अब किसी के प्रति कोई गुस्सा या घृणा नहीं करती हूँ। ऐसा इसलिए नहीं है क्योंकि वे इसके लायक हैं, बल्कि मैं इससे मुक्त रहना चाहती हूँ। एक बार जब मैं उनके प्रति दुश्मनी और गुस्सा करना छोड़ दिया, तो मैं खुद को दूसरों के सामने खोल पायी।”

उसने संयुक्त राज्य अमेरिका में अपने घर में एक छोटा-सा होलोकॉस्ट संग्रहालय भी स्थापित किया। इसलिए लोग बदला लिये बिना एक नया जीवन पाने की उसकी विरासत और होलोकॉस्ट को कभी नहीं भूलेंगे।

06 July 2019, 16:38