खोज

Vatican News
बेतलेहेम में येसु के जन्म स्थल पर स्थापित गिरजाघर में रात्रि जागरण मिस्सा अर्पित करते महाधर्माध्यक्ष बेतलेहेम में येसु के जन्म स्थल पर स्थापित गिरजाघर में रात्रि जागरण मिस्सा अर्पित करते महाधर्माध्यक्ष  (ANSA)

बेतलेहेम में ख्रीस्त जयन्ती का उत्सव

क्रिसमस जागरण मिस्सा के लिए बेतलेहेम ने कुल 10,000 पर्यटकों की मेजबानी की, जो विगत वर्षों में क्रिसमस समारोह में भाग लेने वालों की सबसे बड़ी संख्या है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 27 दिसम्बर 2018 (वाटिकन न्यूज)˸ क्रिसमस जागरण मिस्सा के लिए बेतलेहेम ने कुल 10,000 पर्यटकों की मेजबानी की, जो विगत वर्षों में क्रिसमस समारोह में भाग लेने वालों की सबसे बड़ी संख्या है।

विश्व के विभिन्न देशों से लोग क्रिसमस मनाने बेतलेहेम आये थे जिसे परम्परागत रूप से येसु का जन्म स्थान माना जाता है। पर्यटकों की कुल संख्या इस साल 10,000 रही जो एक बड़ी संख्या है।    

येरूसालेम के लातीनी प्रेरितिक प्रशासक महाधर्माध्यक्ष पियेरबतिस्ता पिज़ाबाला एक इजरायली सैन्य चौकी पार करते हुए येरूसालेम से बेतलेहेम आये। जागरण मिस्सा में फिलीस्तीन के राष्ट्रपति मोहम्मद अब्बास तथा प्रधानमंत्री रामी हामदाल्लाह ने भी भाग लिया।  

मरम्मत किया गया मोज़ाइक हमारे जीवन का प्रतीक

ख्रीस्तयाग समारोह के दौरान अपने उपदेश में महाधर्माध्यक्ष ने कहा कि जैसे ही वे महागिरजाघर घुसे पहली नजर में उन्होंने मोज़ाईक देखा जिसका मरम्मत चल रहा है। उन्होंने कहा कि "मोज़ाईक की सुन्दरता हमारे जीवन की सच्चाई है।" मोज़ाईक उत्कृष्ट था किन्तु अब वह धूल से ढक गया है। उस धूल के कारण हम उसकी सुन्दरता को भूल गये हैं। इसमें पुनः सुन्दरता लाने के लिए थोड़ी सफाई की जरूरत है। फिलीस्तीन की इस सुन्दरता की तुलना करने हुए महाधर्माध्यक्ष ने कहा कि पिछला साल राजनीतिक, आर्थिक एवं सामाजिक दृष्टिकोण से यह बिल्कुल कुरूप हो गयी थी। वर्तमान परिवेश में लोगों को सब कुछ में बुराई दिखाई देती है जो अपने में एक प्रलोभन है। हम देखते हैं कि हमारे पास बहुत सारी समस्याएँ हैं किन्तु यदि उन्हें हटा दिया जाए तब हम जीवन की अनोखी सच्चाई, समर्पण, योजना एवं प्रयासों को देख सकेंगे। जब तक यह फिलीस्तीन की बात है हमें भविष्य की उम्मीद है। ख्रीस्त जयन्ती में धूल की परत को हटाना है ताकि हम जीवन के अनोखेपन को देख सकें।    

ख्रीस्त जयन्ती ख्रीस्तयाग में फिलीस्तीनियों की सहभागिता कम

देश के बाहर से आने वाले पर्यटकों की संख्या जहाँ बहुत अधिक थी वहीं फिलीस्तीन के लोगों की सहभागिता कम थी। बेतलेहेम के एक निवासी ने कहा कि इसका कारण कड़ी सुरक्षा है। बेतलेहेम इज्राएल द्वारा नियंत्रित पश्चिम तट के एक हिस्से में स्थित है। हाल ही में हुई एक हिंसा में इज़्राएली सैनिकों को निशाना बनाकर की गई गोलीबारी में एक दम्पति घायल हो गया था। सुरक्षा बढ़ा दी गई है क्योंकि इज़्राएल गोलीबारी के जिम्मेदार लोगों की तलाश में है।

फिलीस्तीन के पर्यटन मंत्री रूला माया ने कहा, "यह त्योहार का दिन है और हमें उम्मीद है कि हम भी एक दिन दूसरों की तरह इसे मना पायेंगे।"

27 December 2018, 15:30