बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
वकील सैफुल मालुक वकील सैफुल मालुक   (ANSA)

आसिया बीबी के विरोध में 150 गिरफ्तार

आसिया बीबी के पति ने अपनी पत्नी के ईशनिदा आरोप से बरी होने के उपारंत अमेरीका, ब्रिटेन और कनाडा से पनाह हेतु निवेदन की।

दिलीप संजय एक्का-वाटिकन सिटी

ख्रीस्तीय धर्मावलम्बी आसिया बीबी के आठ साल की अदालती लड़ाई और ईश निंदा के आरोप से बरी होने पर उसके विरूद्ध प्रदर्शन कर रहें करीब 150 लोगों को पाकिस्तान में गिरफ्तार किया गया है।

प्रर्दशनकारियों जिनका संबंध मुख्यतः कट्टर इस्लामिक पाटी से है जिन्होंने देश में तीन दिनों तक सड़कों को जाम करते हुए कई वहनों को आज के हवाले कर दिया। जानकारी के मुताबिक  विरोध प्रदर्शन तब जाकर खत्म हुआ जब सरकार ने आसिया बीबी का पाकिस्तान छोड़ने के मुद्दे को सर्वोच्च न्यायालय के आगामी आदेश तक सुरक्षित रखने की घोषणा की।

राजनीतिक पनाह की गुजारिश

उधर आसिया बीबी के शौहर आशिक माश ने देश में अपने परिवार के खिलाफ उग्र स्थिति और अपने जान-माल के खतरे में देखते हुए अमेरीका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्फ के अलावे बिटेन और कनाडा में शरण हेतु अर्जी की है। उन्होंने अपने विडीयो संदेश में कहा, “जहाँ तक बन पड़े आप हमारी सहायता कीजिए।”

वकील ने देश छोड़ा

आसिया बीबी का केस लड़ा रहे वकील सैफुल मालुक ने अपना देश छोड़ दिया है। वे जो अपनी जान की सुरक्षा हेतु यूरोप में पनाह लिये हुए हैं उनका कहना है कि वे आसिया बीबी की ओर से न्यायिक लड़ाई जारी रखेंगे।

यूरोपीय संसदों की एकतात्मकता

उधर यूरोपीयन संसद के अधिकारी अन्तोनियो तेजानी ने कहा, “मैंने पाकिस्तान के अधिकारियों से दूरभाष में बातें करते हुए आसिया बीबी की रिहाई और उसकी परिवार की सुरक्षा की मांग की है।” उन्होंने कहा कि उनका दोष यही है कि वे ख्रीस्तीय समुदाय से तल्लुकात रखते हैं। 

05 November 2018, 17:16