बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
महाधर्माध्यक्ष बेरनारदीतो आऊज़ा महाधर्माध्यक्ष बेरनारदीतो आऊज़ा 

वाटिकन ने की परमाणु विकिरण पर संयुक्त राष्ट्र की सराहना

न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र संघ की आम सभा में परमाणु विकिरण के प्रभाव पर, छः नवम्बर को राष्ट्रों के प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए वाटिकन के वरिष्ठ महाधर्माध्यक्ष बेरनारदीतो आऊज़ा ने संयुक्त राष्ट्र संघीय समिति के कार्यों की सराहना की।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

न्यूयॉर्क, शुक्रवार, 9 नवम्बर 2018 (रेई, वाटिकन रेडियो): न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र संघ की आम सभा में परमाणु विकिरण के प्रभाव पर, छः नवम्बर को राष्ट्रों के प्रतिनिधियों को सम्बोधित करते हुए वाटिकन के वरिष्ठ महाधर्माध्यक्ष बेरनारदीतो आऊज़ा ने संयुक्त राष्ट्र संघीय समिति के कार्यों की सराहना की.  

समिति का अध्ययन लाभकर

संयुक्त राष्ट्र संघ में परमधर्मपीठ के स्थायी पर्यवेक्षक महाधर्माध्यक्ष आऊज़ा ने कहा कि समिति द्वारा सम्पादित अध्ययन एवं अनुसन्धान कार्य परमाणु विकिरण तथा जीवन एवं पर्यावरण पर उसके प्रभावों के बारे में गहन समझदारी उत्पन्न करेंगे.

यूक्रेन तथा जापान की  परमाणु दुर्घटनाओं का स्मरण दिलाकर उन्होंने कहा कि परमाणु ऊर्जा का उपयोग ख़तरों से कभी खाली नहीं होता. अस्तु, उन्होंने कहा कि अन्तरराष्ट्रीय समुदाय को सतत् सावधानी बरतने का आवश्यकता है ताकि परमाणु ऊर्जा का उपयोग केवल शांतिपूर्ण लक्ष्यों के लिये किया जाये.     

परमधर्मपीठ के राजनयिक महाधर्माध्यक्ष आऊज़ा ने हिरोशिमा और नागासाकी पर परमाणु बम के उपयोग के बाद हुए विकिरण से हुई मौतों पर गहन शोक व्यक्त किया और उम्मीद की कि इस प्रकार की घटनाओं को फिर कभी दोहराया नहीं जाएगा.

समिति देगी विकिरण के दूरगामी प्रभावों पर आलोक

उन्होंने इस तथ्य की ओर ध्यान आकर्षित कराया कि संयुक्त राष्ट्र संघीय समिति द्वारा फुकुशीमा विनाश पर किया गया अध्ययन परमाणु विकिरण के दूरगामी प्रभावों पर आलोकित कर सकेगा. महाधर्माध्यक्ष आऊज़ा ने समिति की हर सफलता की शुभकामना की और आशा व्यक्त की कि भविष्य में भी वह हमारे सामान्य धाम विश्व के सभी लोगों के कल्याण हेतु कार्य करती रहेगी.   

09 November 2018, 11:14