बेटा संस्करण

Cerca

Vatican News
महिलाओं का बलात्कार महिलाओं का बलात्कार  (AFP or licensors)

गिरफ्तार पुरोहित के जमानत की मांग

पुलिस ने 22 जून को स्कूल के प्रिंसिपल फादर अल्फोन्स आइन्द को गिरोह बलात्कार उकसाने के आरोप पर गिरफ्तार कर लिया और अपराध की जांच के लिए उन्हें जेल में रखा गया है।

माग्रेट सुनीता मिंज - वाटिकन सिटी

भोपाल, बुधवार 25 जुलाई 2018 (उकान) : झारखंड के खूंटी जिले में पांच महिलाओं के गिरोह बलात्कार को उकसाने के आरोप में पुलिस ने एक काथलिक पुरोहित अल्फोंस आइन्द को गिरफतार किया था, परंतु पुलिस ने इस अपराध के मास्टरमाइन्ड माने जाने वाले व्यक्ति को गिरफतार कर लिया है।

पुलिस ने जॉन जोनास टुडू को गिरफ्तार कर लिया है और दावा किया है कि इनके नेतृत्व में 19 जून को जेसुइट द्वारा संचालित स्कूल से अपहरण की गई पांच महिलाओं का जंगल में बलात्कार किया गया था। खूंटी धर्मप्रांत के दूरस्थ कोचांग गांव में महिलाओं को स्टॉकमैन मेमोरियल मिडिल स्कूल से लिया गया था।

पुलिस ने 22 जून को स्कूल के प्रिंसिपल फादर अल्फोन्स आइन्द को गिरोह बलात्कार उकसाने के आरोप में गिरफ्तार कर लिया और अपराध की जांच के लिए उन्हें जेल में रखा गया है।

वकील की टीम के समन्वयक वकील जेसुइट फादर पीटर मार्टिन ने कहा, "यह सब झूठा आरोप है। फादर अल्फोंस अपहरण या गिरोह के बलात्कार के अपराध से कभी जुड़े नहीं थे।" 23 जुलाई को फादर आइन्द की रिहाई के लिए जमानत आवेदन भेजा गया है।

खूंटी जिला अदालत में 3 अगस्त को केस की सुनवाई होगी।

फादर मार्टिन ने उका न्यूज से कहा, "फादर आइन्द के खिलाफ मामले की जाँच के समय वे वहाँ खड़े नहीं होगे।" "जब व्यक्ति अपराध के दृश्य में नहीं होता है, तो उसे जिम्मेदार कैसे ठहराया जा सकता है? पुलिस ने मनगढंत आरोप लगाया है।"

उनकी उम्मीद है कि मुकदमे की सुनवाई तक फादर को जेल से रिहा कर दिया जाएगा।

26 July 2018, 10:09