खोज

वाटिकन विदेश सचिव महाधर्माध्यक्ष पौल गालाघार , फाईल तस्वीर वाटिकन विदेश सचिव महाधर्माध्यक्ष पौल गालाघार , फाईल तस्वीर  (ANSA)

वाटिकन विदेश सचिव महाधर्माध्यक्ष गालाघार उत्तरी मैसेडोनिया में

वाटिकन राज्य के विदेश सचिव महाधर्माध्यक्ष पॉल रिचर्ड गालाघार पश्चिमी बाल्कन के भविष्य पर चर्चा करने तथा स्कोपिये में ख्रीस्तयाग समारोह हेतु 16 से 19 जून तक उत्तरी मैसेडोनिया का दौरा कर रहे हैं।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 17 जून 2022 (रेई, वाटिकन रेडियो): वाटिकन राज्य के विदेश सचिव महाधर्माध्यक्ष पॉल रिचर्ड गालाघार पश्चिमी बाल्कन के भविष्य पर चर्चा करने तथा स्कोपिये में ख्रीस्तयाग समारोह हेतु 16 से 19 जून तक  उत्तरी मैसेडोनिया का दौरा कर रहे हैं।

बुधवार को वाटिकन सच्चिवालय ने ट्वीटर पर प्रकाशित सन्देश में महाधर्माध्यक्ष की उत्तरी मैसेडोनिया यात्रा की घोषणा की। पश्चिमी बालकन प्रदेश के ओरिद्ध शहर में 16 से 19 जून तक प्रेस्पा फोरम सम्वाद 2022 जारी है, इसी में भाग लेने हेतु महाधर्माध्यक्ष उत्तरी मैसोडोनिया का दौरा कर रहे हैं।  

23 जून को ब्रसेल्स में होनेवाली यूरोपीय संघ की एक उच्च स्तरीय बैठक से पहले, उक्त कार्यक्रम में राजनीतिक नेता पश्चिमी बाल्कन के भविष्य पर चर्चा करेंगे तथा वर्तमान यूरोपीय सुरक्षा स्थिति सम्बन्धी क्षेत्र के भविष्य पर भी विशद विचार-विमर्श करेंगे।

कूटनैतिक मिशन

वाटिकन सच्चिवालय की वेब साईट पर प्रकाशित ट्वीट के अनुसार महाधर्माध्यक्ष गालाघार इस यात्रा को दौरान उत्तरी मैसोडोनिया के राष्ट्रपति स्टीवो पेन्डारेव्स्की, प्रधान मंत्री दिमीतार कोवाचेव्स्की तथा विदेश मंत्री बूजार ओसमानी से मुलाकातें करेंगे।   

ग़ौरतलब है कि उत्तरी मैसोडोनिया के प्रधान मंत्री दिमीतार कोवाचेव्स्की ने विगत 25 मई को ही वाटिकन की भेंट कर सन्त पापा फ्राँसिस से मुलाकात की थी।

महाधर्माध्यक्ष पॉल रिचर्ड गालाघार इस यात्रा को दौरान स्कोपिये के महागिरजाघर में ख्रीस्तयाग भी अर्पित कर रहे हैं। 2019 के मई माह में सन्त पापा फ्राँसिस ने इस महागिरजाघर की भेंट कर यहाँ स्थापित मदर तेरेसा के स्मारक पर श्रद्धार्पण किया था तथा ख्रीस्तीय एकतावर्द्धक एवं अन्तरधर्म सम्वाद सम्बन्धी सम्मेलन की अध्यक्षता की थी। कलकत्ते की मदर तेरेसा नाम से विख्यात उदारता के काथलिक मिशनरी धर्मसंघ की संस्थापिका मदर तेरेसा का जन्म स्कोपिये में ही  सन् 1910 ई. को हुआ था।  

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

17 June 2022, 11:45