खोज

कार्डिनल पारोलीन राख बुधवार के अवसर पर  रोम में कार्डिनल पारोलीन राख बुधवार के अवसर पर रोम में  (AFP or licensors)

कार्डिनल पारोलीन तथा रूसी लावरोव ने युद्ध समाप्ति का किया आह्वान

वाटिकन राज्य सचिव कार्डिनल पियेत्रो पारोलीन ने मंगलवार को रूस के विदेश मंत्री सेरगेई लावरोव के साथ टेलीफोन पर बातचीत की। इस अवसर पर कार्डिनल पारोलीन ने शांति हेतु सन्त पापा फ्राँसिस की अपील की पुनरावृत्ति की तथा किसी भी प्रकार की मध्यस्थता के लिए परमधर्मपीठ की उपलब्धता की पेशकश की।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार, 9 मार्च 2022 (रेई, वाटिकन सिटी): वाटिकन राज्य सचिव कार्डिनल पियेत्रो पारोलीन ने मंगलवार को रूस के विदेश मंत्री सेरगेई लावरोव के साथ टेलीफोन पर बातचीत की। इस अवसर पर कार्डिनल पारोलीन ने शांति हेतु सन्त पापा फ्राँसिस की अपील की पुनरावृत्ति की तथा किसी भी प्रकार की मध्यस्थता के लिए परमधर्मपीठ की उपलब्धता की पेशकश की।

वाटिकन प्रवक्ता मातेओ ब्रूनी

वाटिकन प्रेस कार्यालय के निर्देशक मातेओ ब्रूनी ने कार्डिनल पारोलीन तथा रूसी विदेश मंत्री सेरगई लावरोव के बीच सम्पन्न टेलीफोन वार्ता की पुष्टि करते हुए बताया कि "कार्डिनल पारोलीन ने यूक्रेन में चल रहे युद्ध के प्रति सन्त पापा फ्रांसिस की गहन चिंता से अवगत कराया और विगत रविवार के मध्यान्ह देवदूत प्रार्थना के अवसर पर की गई उनकी अपील की पुनरावृत्ति की।"

निर्देशक ब्रूनी ने कहा कि विशेष रूप से, उन्होंने सशस्त्र हमलों को रोकने तथा मानवीय गलियारों को खुला रखने हेतु सन्त पापा के आह्वान का स्मरण दिलाया, ताकि नागरिकों एवं राहत कर्मियों को पूर्ण सुरक्षा मिल सके तथा हथियारबद्ध लड़ाई के बजाय वार्ताओं एवं समझौतों का मार्ग प्रशस्त किया जा सके।

उन्होंने बताया कि टेलीफोन वार्ता के अन्त में कार्डिनल पारोलीन ने "शांति की सेवा में ख़ुद को लगाने हेतु हर संभव प्रयास करने की परमधर्मपीठ की इच्छा की पुनर्पुष्टि की।"

बातचीत जारी

इसी बीच, रूस की इन्टरफेक्स एजेन्सी ने भी उक्त टेलीफोन वार्ता के बारे में रूसी संघ के विदेशी मामलों के मंत्रालय का हवाला देकर प्रकाशित किया कि "शत्रुता को समाप्त करने के उद्देश्य से, दोनों पक्षों ने आशा व्यक्त की कि मॉस्को और कीव के बीच अगले दौर की वार्ता जल्द ही होगी और प्रमुख मुद्दों पर एक समझौता हो सकेगा।"

रूसी सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की कि रूसी विदेश मंत्री लावरोव ने कार्डिनल पियेत्रो पारोलीन को "यूक्रेन में आयोजित विशेष सैन्य अभियान के कारणों और उद्देश्यों के बारे में सूचित कर दिया है।"  

ग़ौरतलब है कि विगत रविवार को देवदूत प्रार्थना के अवसर पर सन्त पापा फ्राँसिस ने इस तथ्य को रेखांकित किया था कि यूक्रेन में जारी संघर्ष कोई सैन्य अभियान नहीं है बल्कि यह एक युद्ध है।  

रूसी विदेश मंत्रालय के बयान के अन्त में कहा गया कि, "संघर्ष से संबंधित मानवीय मुद्दों पर विशेष ज़ोर दिया गया, जिसमें नागरिकों की रक्षा के उपाय, मानवीय गलियारों के संगठन और कार्यान्वयन तथा शरणार्थियों को सहायता प्रदान करना शामिल है।"

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

09 March 2022, 11:44