खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस और अल-अजहर के ग्रैंड इमाम अहमद अल-तैयब  केंद्र में संत पापा फ्राँसिस और अल-अजहर के ग्रैंड इमाम अहमद अल-तैयब केंद्र में  (Vatican Media)

अबू धाबी में अब्राहम परिवार भवन 2022 में खुलेगा

संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी में सांस्कृतिक मील का पत्थर, जिसमें एक आराधनालय, एक गिरजाघर और एक मस्जिद शामिल है, मानव बंधुत्व पर दस्तावेज़ से प्रेरित समझ और शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व का प्रतीक है।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 17 जून 2021(वाटिकन न्यूज) : मानव बंधुत्व की उच्च समिति (एचसीएचएफ) ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि अब्राहम परिवार भवन, जिसमें एक ही परिसर में एक आराधनालय, एक गिरजाघऱ और एक मस्जिद है और जिसका उद्घाटन 2022 में होने वाला है, 20 प्रतिशत पूरा हो गया है। परियोजना की देखरेख करने वाली समिति ने कहा कि यह मानव बंधुत्व पर 2019 दस्तावेज़ से प्रेरित है। एचसीएचएफ ने कहा कि संयुक्त अरब अमीरात की राजधानी अबू धाबी में सादियात द्वीप पर निर्मित, इस परियोजना को संत पापा फ्राँसिस और अल-अजहर के ग्रैंड इमाम अहमद अल-तैयब ने बारीकी से निरीक्षण किया और डिजाइन का समर्थन किया।

अब्राहम परिवार भवन का नाम बाइबिल के पुराने व्यवस्थान के अब्राहम से लिया गया है, जिसे यहूदियों, ख्रीस्तियों और मुसलमानों द्वारा मान्यता प्राप्त और बहुत सम्मानित किया जाता है।

साझा मूल्य

आर्किटेक्ट सर डेविड एडजय ने अब्राहम परिवार भवन का डिज़ाइन बनाया है। यहूदी धर्म, ख्रीस्तीय धर्म और इस्लाम द्वारा तीन मुख्य इमारतों के माध्यम से साझा किए गए मूल्य, जिसमें एक मस्जिद, एक गिरजाघऱ और एक आराधनालय शामिल हैं। "इस तरह, परिसर अभिनव रूप से इतिहास को याद करता है और मानव सभ्यताओं और स्वर्गीय संदेशों के बीच पुल बनाता है।"

अब्राहम परिवार भवन परिसर में पूजा के तीन अलग-अलग प्रतिष्ठित घरों के नाम आधिकारिक तौर पर "इमाम अलतैयब मस्जिद," "संत फ्राँसिस गिरजाघऱ" और "मूसा बेन मैमोन सिनागॉग"के रूप में अनावरण किए गए हैं। मूसा बेन मैमोन मध्य युग के एक विपुल और प्रभावशाली सेफ़र्डिक यहूदी दार्शनिक थे।

अंतरधार्मिक सामंजस्यपूर्ण सहअस्तित्व

पूजा के 3 स्थानों के अलावा, परिसर में एक सांस्कृतिक केंद्र भी शामिल है जिसका उद्देश्य लोगों को एक ऐसे समुदाय के भीतर मानव बंधुत्व और एकजुटता का उदाहरण देना है जो पारस्परिक सम्मान और शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व के मूल्यों को पोषित करता है, साथ ही प्रत्येक धर्म के अद्वितीय चरित्र को संरक्षित किया जाता है।

अबू धाबी में भविष्य के अब्राहम परिवार भवन का मॉडल
अबू धाबी में भविष्य के अब्राहम परिवार भवन का मॉडल

अब्राहम परिवार भवन के डिजाइन का अनावरण पहली बार एचसीएचएफ की दूसरी बैठक के दौरान 2019 में न्यूयॉर्क में एक वैश्विक सभा में संयुक्त अरब अमीरात के विदेश मंत्री और अंतर्राष्ट्रीय सहयोग मंत्री शेख अब्दुल्ला बिन जायद अल नाहयान द्वारा किया गया था। डिजाइन को उस साल नवंबर में संत पापा फ्राँसिस और ग्रैंड इमाम के साथ एक बैठक के दौरान भी प्रस्तुत किया गया था।

मानव बंधुत्व पर दस्तावेज़ की पहली वर्षगांठ

अबू धाबी के संस्कृति विभाग के अध्यक्ष और एक एचसीएचएफ सदस्य मोहम्मद खलीफा अल मुबारक ने कहा, "अब्राहम परिवार भवन अंतरधार्मिक सामंजस्यपूर्ण सह-अस्तित्व का प्रतीक है और प्रत्येक धर्म के अद्वितीय चरित्र को संरक्षित करता है।" उन्होंने कहा, "यह मानव बंधुत्व के लिए अबू धाबी के दृष्टिकोण को व्यक्त करता है और संयुक्त अरब अमीरात के पहले से ही विविध सांस्कृतिक ताने-बाने में सह-अस्तित्व को पिरोता है। इस प्रतिष्ठित परियोजना के विकास की देखरेख मानव बंधुत्व पर दस्तावेज़ के मूल्यों को साकार करने और इसके उदात्त सिद्धांतों को बढ़ावा देने के लिए यूएई के प्रयासों को प्रेरित और प्रतिबिंबित करता है।”

मानव बंधुत्व पर दस्तावेज़

मोहम्मद खलीफा अल मुबारक ने कहा कि पूजा के तीन घरों के नाम ग्रैंड इमाम, संत पापा फ्राँसिस और मूसा बेन मैमोन के काम को पहचानते हैं और "दुनिया भर में आने वाली पीढ़ियों के लिए सद्भावना का संदेश बनाने के लिए उनकी शिक्षाओं का उपयोग करते हैं।"

"विश्व शांति और एक साथ रहने के लिए मानव बंधुत्व पर दस्तावेज़", जिसे केवल मानव बंधुत्व पर दस्तावेज़ कहा जाता है, पर संत पापा फ्राँसिस और ग्रैंड इमाम द्वारा अबू धाबी की यात्रा के दौरान 4 फरवरी, 2019 को हस्ताक्षर किए गए थे।

सांस्कृतिक स्थलचिह्न

इस दस्तावेज़ की भावना में, अब्राहम परिवार भवन परिसर उन सभी आगंतुकों का स्वागत करेगा जो पूजा-अर्चना करना, सीखना और संवाद करना चाहते हैं। इसके अलावा, यह विभिन्न प्रकार के दैनिक कार्यक्रमों और गतिविधियों की पेशकश करेगा और अंतरराष्ट्रीय सम्मेलनों और विश्व शिखर सम्मेलनों की मेजबानी करेगा जो समुदायों के भीतर सामंजस्यपूर्ण सह-अस्तित्व की विशेषता रखते हैं। एचसीएचएफ ने कहा, "सीखने, संवाद और पूजा के लिए एक जगह के रूप में, " अब्राहम परिवार भवन एक सांस्कृतिक मील का पत्थर और एक वैश्विक प्रेरक प्रतीक होगा जो यहूदी धर्म, ख्रीस्तीय धर्म और इस्लाम के तीन अब्राहमिक धर्मों के बीच सामंजस्यपूर्ण सह-अस्तित्व और समझ के साझा मूल्यों का प्रतीक है।”

16 June 2021, 15:32