खोज

Vatican News
लुंड के महागिरजाघर में ख्रीस्तीय एकतावर्धक प्रार्थना में भाग लेते संत पापा फ्राँसिस लुंड के महागिरजाघर में ख्रीस्तीय एकतावर्धक प्रार्थना में भाग लेते संत पापा फ्राँसिस  

काथलिकों और लुथेरनों ने एकता हेतु समर्पण को पुनः सुदृढ़ किया

ख्रीस्तीय एकता को प्रोत्साहन देने हेतु गठित परमधर्मपीठीय समिति एवं लुथेरन विश्व संघ ने तनाव से एकता की ओर एक साथ यात्रा हेतु अपनी प्रतिबद्धता को सुदृढ़ किया।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 7 जनवरी 2021 (रेई)- ख्रीस्तीय एकता हेतु गठित परमधर्मपीठीय समिति एवं लुथेरन विश्व संघ ने हाल में औचित्य के सिद्धांत पर संयुक्त घोषणा नामक ऐतिहासिक दस्तावेज के अद्यतन इतालवी अनुवाद के प्रकाशन की घोषणा की।

समिति के वेबसाईट में प्रकाशित एक जानकारी में इस बात की ओर ध्यान आकृष्ट किया गया है कि दस्तावेज को 3 जनवरी 2021 को जारी करते हुए काथलिकों एवं लुथेरनों ने मार्टिन लुथर के कलीसिया से बहिष्कार की 500वीं वर्षगाँठ की याद की तथा दोनों कलीसियाओं ने तनाव से एकता की ओर एक साथ यात्रा में अपने समर्पण को सुदृढ़ किया।

परमधर्मपीठीय समिति के सचिव धर्माध्यक्ष ब्रेन फार्रेल्ल ने वाटिकन न्यूज को इस पहल के महत्व के बारे बतलाया।

सवाल- धर्माध्यक्ष फार्रेल्ल आप इस औचित्य के सिद्धांत पर संयुक्त घोषणा के इतालवी अनुवाद को अद्यतन करने में इस संयुक्त काथलिक-लूथेरन पहल के महत्व का वर्णन कैसे करेंगे?

उत्तर- सबसे पहले यह इस बात के लिए महत्वपूर्ण है कि 20 सालों पहले ख्रीस्तीय एकतावर्धक वार्ता में काथलिक एवं लुथेरन औचित्य के दस्तावेज पर सहमति तक पहुँचे थे। कुछ लोग इसे बहुत महत्वपूर्ण नहीं समझते हैं किन्तु यह मौलिक है क्योंकि यह सुसमाचार के केंद्र एवं विवाद के केंद्र में जाता है जिसने 16वीं शताब्दी में काथलिकों एवं लुथेरनों के बीच विभाजन लाया।

कई लोग याद करेंगे कि लुथेरनों ने उसी बात पर जोर दिया जिसको लुथर ने जोर दिया- इस तथ्य पर कि हम ईश्वर की कृपा द्वारा विश्वास में बचाये गये हैं (दूसरी ओर) माना जाता है कि हमें अच्छे काम करने हैं। यही सवाल है जिसपर प्रोटेस्टंट सुधार आंदोलन और काथलिक कलीसिया के बीच हमेशा तनाव रहा है। अतः मौलिक रूप से 1999 में काथलिक कलीसिया एवं लुथेरन विश्व संघ के बीच सहमति की गई कि हमारे पास वही दस्तावेज है और मूल रूप से यही कहता है : हम लुथेरन और काथलिक एक साथ स्वीकार करते हैं कि हमारी किसी योग्यता के आधार पर नहीं तथा ख्रीस्त के मुक्ति कार्य पर विश्वास से मिली कृपा द्वारा, हम ईश्वर द्वारा स्वीकार किये जाते हैं एवं पवित्र आत्मा को प्राप्त करते हैं जो हमारे हृदयों को नवीकृत करते एवं हमें भले कार्यों को करने के योग्य बनाते हैं। इस तरह हम उस समझौता तक पहुँचते हैं जो मौलिक है, जो दरार और अलगाव एवं सदियों से चले आ रहे संघर्ष का कारण बना।   

इस समझौता के 20 सालों बाद अब, हमने निर्णय किया कि हमें इटालियन में इसके नये संस्करण को प्रकाशित करने की जरूरत है क्योंकि हमने गौर किया कि अलग अलग इताली अनुवाद की कमियाँ एवं शब्दावलियाँ हैं। हमने इसे किया है क्योंकि हम कलीसिया के इतिहास में बहुत महत्वपूर्ण पल की 500वीं वर्षगाँठ में हैं। जैसे कि आप जानते हैं हम इन दिनों लूथर के कलीसिया से बहिष्कार की 500वीं वर्षगाँठ मना रहे हैं अतः हमने विचार किया कि इसे प्रकाशित करना अच्छा होगा यह दिखलाने के लिए कि हम उसी स्थान पर नहीं हैं।  

सवाल – मूल दस्तावेज अंग्रेजी में तैयार किया गया था, क्या यह सच है?

उत्तर – अंग्रेजी और जर्मन में। वे आधिकारिक दस्तावेज हैं क्योंकि संवाद में कई लोग स्वभाविक रूप से जर्मन लुथेरन हैं या स्वीडेन अथवा फिनलैंड के लुथेरन हैं और वे जर्मन बोलते हैं। अतः दस्तावेज को जर्मन एवं अंग्रेजी में लिखा गया।  

सवाल- काथलिक-लुथेरन ख्रीस्तीय एकतावर्धक वार्ता में आज हम कहाँ हैं, खासकर, हाल के दशकों में प्रगति के संदर्भ में?  

उत्तर- 500 साल पहले हम जहाँ थे वहाँ से अब बहुत आगे निकल चुके हैं। यदि हम संत पापा फ्राँसिस की याद करें तो वे 2017 में लुथेरन सुधार की शुरूआत की 500वीं वर्षगाँठ मनाने स्वीडेन के लुंड गये थे। लुथेरन सुधार का यही वह समय था जब माना जाता है कि लुथर ने महागिरजाघर के दरवाजे पर अपने 95 शोध पत्र लगाए थे।

इस समय हम कहां हैं, इस विचार के बारे में, हम इसे उस दस्तावेज के शीर्षक में पा सकते हैं, जिसे लूथेरन काथलिक संवाद कमीशन ने 500वीं वर्षगांठ के लिए प्रकाशित किया है: जिसका शीर्षक है "संघर्ष से एकता की ओर", और हम वहीं हैं।

हम संघर्ष से दूर एकता की ओर रास्ते पर हैं। एकता बढ़ती ही जायेगी जब हम आपस में नयी समझदारी एवं नये समझौते की ओर बढ़ेंगे। इस तरह हम बहुत अलग स्थान पर हैं।  

औचित्य पर दस्तावेज की संयुक्त घोषणा के अंग्रेजी संस्करण को ख्रीस्तीय एकतावर्धक वार्ता हेतु गठित परमधर्मपीठीय समिति की वेबसाईट www.christianunity.va. पर प्राप्त किया जा सकता है।

07 January 2021, 15:01