खोज

Vatican News

वाटिकन में क्रिसमस ट्री एवं चरनी आशा के संदेश के साथ जगमगा उठे

वाटिकन में क्रिसमस ट्री एवं चरनी का उद्घाटन शुक्रवार शाम को बत्ती जला कर किया गया, जहाँ कई प्रतिनिधि उपस्थित थे।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार, 12 दिसम्बर 2020 (रेई)- संत पेत्रुस महागिरजाघर का प्राँगण शुक्रवार शाम को जगमगा उठा, जब कुछ प्रतिनिधियों की उपस्थिति में क्रिसमस ट्री एवं चरनी का उद्घाटन बत्ती जला कर किया गया। यह एक पुरानी परम्परा है।

इसने कोविद -19 महामारी के अंधेरे के बीच दुनिया के लिए मसीह के आगमन में आशा का संकेत दिया। सभी स्वास्थ्य नियमों का पालन करते हुए कार्यक्रम रोम समयानुसार शाम 5.00 बजे शुरू किया गया।

क्रिसमस ट्री के रूप में 30 मीटर ऊँचा और 7 टन भारी स्प्रस का पेड़ मिस्र के स्मारक-स्तंभ के बगल में गर्व से जगमगा उठा। जिसे स्लोवेनिया के कोचेवजे क्षेत्र से लाया गया है और यह 10 जनवरी 2021 तक संत पेत्रुस महागिरजाघर के प्राँगण को सुशोभित करेगा।

वाटिकन के इस क्रिसमस ट्री एवं चरनी के दर्शन की अभिलाषा रखनेवाले, वाटिकन मीडिया के यूट्ब चैनल पर इसे 24 घंटे लाईव देख सकते हैं।

वाटिकन में बनी चरनी की प्रतिमाओं को इटली के अब्रूत्सो प्रांत के कास्तेली से लायी गयी है जो चीनी मिट्टी की हैं तथा आदम कद से भी बड़े आकार में बनी हैं। चरनी जिसमें नाजरेथ के पवित्र परिवार का दृश्य प्रस्तुत किया गया है इसका उद्घाटन भी शुक्रवार को ही बत्ती जला कर किया गया।  

स्वर्गीय शांति

उद्घाटन समारोह में कार्डिनल जुसेप्पे बेरतोने और धर्माध्यक्ष फेरनांदो वेरगेस एलजागा तथा चरनी एवं क्रिसमस ट्री दान करनेवालों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

जैसा कि संत पापा ने स्लोवेनिया एवं इटली के प्रतिनिधियों से कहा था, "क्रिसमस के ये प्रतीक, अब पहले से कहीं अधिक आशा के चिन्ह हैं, रोम के लोगों के लिए एवं उन सभी तीर्थयात्रियों के लिए जो यहाँ आकर इसका दर्शन करेंगे।"  

12 December 2020, 12:53