खोज

Vatican News
कोरोना वायरस महामारी के कारण घर के अंदर से दादा-दादी को तस्वीर दिखाती एक बच्ची कोरोना वायरस महामारी के कारण घर के अंदर से दादा-दादी को तस्वीर दिखाती एक बच्ची 

वाटिकन ने "प्रज्ञा का उपहार" अभियान जारी किया

लोकधर्मी, परिवार एवं जीवन के लिए गठित परमधर्मपीठीय परिषद ने युवाओं एवं बुजूर्गों के बीच संबंध को बढ़ावा देने के लिए एक पहल जारी किया है।

उषा मनोरमा तिरकी- वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 27 नवम्बर 2020 (रेई)- 32वें विश्व युवा दिवस के लिए संत पापा फ्राँसिस के आह्वान पर ध्यान देते हुए, जिसमें उन्होंने स्मरण दिलाया है कि उन्हें बुजूर्गों की "प्रज्ञा और दर्शन" की जरूरत है- कलीसिया जब क्रिसमस काल के नजदीक है, लोकधर्मी, परिवार एवं जीवन के लिए गठित परिषद ने एक पहल जारी किया है। पहल का शीर्षक है- "प्रज्ञा का उपहार"।

शुक्रवार को जारी एक विज्ञप्ति में परिषद ने जोर दिया है कि महामारी के कारण हम एक खास वातारण में जी रहे हैं, इसके बावजूद, युवाओं के लिए बुजूर्गों के साथ संबंध से एक विशेष उपहार प्राप्त करने का अवसर है। कई बुजूर्ग स्वास्थ्य संकट के कारण एकाकी में जी रहे हैं।

विज्ञप्ति में कहा गया है, "हम उन सभी से संबंध स्थापित कर सकते हैं, यह एक खजाना है जिसको खोले जाने का इंतजार है।"

बुजूर्गों से सामीप्य

"प्रज्ञा का उपहार" पहल जुलाई 2020 के अभियान "बुजूर्ग आपके दादा-दादी हैं" की सफलता के बाद आया है। उस अभियान में परिषद ने अनेक युवाओं द्वारा अपने दादा-दादी और दत्तक दादा-दादी के लिए भेजे गये वर्चुवल आलिंगन को एकत्रित किया था।  

"प्रज्ञा के उपहार" पहल के द्वारा विश्वभर के युवाओं को आमंत्रित किया जाता है कि वे "बुजूर्गों के लिए संदेश भेजें और बदले में उनसे प्रज्ञा के उपहार प्राप्त करें।"

सोशल मीडिया मंच पर साझा करें

परिषद प्रस्ताव रखता है कि युवा सोशल मीडिया पर एक स्मृति, एक सलाह अथवा प्रज्ञा का उपहार पोस्ट करें जिसको उन्होंने किसी बुजूर्ग से प्राप्त किया है जिनके साथ उसने हाल के महिनों में संबंध स्थापित किया है।

कई देशों में स्वास्थ्य सुरक्षा के लिए लगाये गये प्रतिबंध अभी भी जारी हैं ऐसी स्थिति में परिषद ने प्रोत्साहन दिया है कि वे सोशल मीडिया का प्रयोग करते हुए अभियान में भाग लें। सबसे अच्छे पोस्ट को लोकधर्मी, परिवार एवं जीवन के लिए गठित परिषद के सोशल मीडिया एकाऊंट पर पोस्ट किया जाएगा।

28 November 2020, 14:42