खोज

Vatican News
कार्डिनल मरियन जावोरस्की कार्डिनल मरियन जावोरस्की  

कार्डिनल जावोरस्की के निधन पर संत पापा का शोक संदेश

संत पापा फ्राँसिस ने क्राकोव के ससम्मान सेवा निवृत महाधर्माध्यक्ष के कार्डिनल मरियन जावोरस्की के निधन पर गहन शोक व्यक्त किया। वे 94 साल के थे। क्राकोव महाधर्मप्रांत ने एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर 5 सितम्बर को उनके निधन की सूचना दी।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, मंगलवार, 8 सितम्बर 2020 (रेई) – संत पापा ने 7 सितम्बर को क्राकोव के महाधर्माध्यक्ष मारेक जाद्रस्जेवस्की को एक तार संदेश प्रेषित कर कार्डिनल के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा, "बड़े दुःख के साथ मैंने कार्डिनल मरियन जावोरस्की के निधन की खबर सुनी। मैं आपके साथ, पोलैंड एवं यूक्रेन के सभी विश्वासियों के साथ और खासकर, क्राकोव महाधर्मप्रांत, जामोस्क-लुबकजोव और लविव महाधर्मप्रांत के साथ मृतक के लिए प्रार्थना करता हूँ। मैं प्रभु को उनके जीवन एवं सुसमाचार के विश्वस्त साक्ष्य द्वारा उनके प्रेरितिक कार्यों के लिए धन्यवाद देता हूँ।"

संत पापा ने विज्ञान के व्यक्ति के रूप में शिक्षा के प्रति उनके समर्पण, वर्साव, क्रकोव और लविव के विश्वविद्यालयों में ईशशास्त्र एवं दर्शनशास्त्र के प्रोफेसर, क्राकोव में ईशशास्त्र के परमधर्मपीठीय अकादमी में डीन एवं रेक्टर के रूप में उनकी सेवाओं की याद की। संत पापा जॉन पौल द्वितीय अक्सर वैज्ञानिक विकास में उनके इस खास एवं बहुमूल्य योगदान की सराहना करते थे।

वे संत पापा जॉन पौल द्वितीय के अच्छे मित्र थे। उन्होंने धर्माध्यक्ष और परमाध्यक्ष के रूप में उनके मिशन में उन्हें अपना समर्थन दिया। उन्होंने ही संत पापा जॉन पौल द्वितीय के जीवन के अंतिम समय में उनके साथ रहते हुए उन्हें रोगियों का संस्कार प्रदान किया। एक दर्शनशास्त्री एवं ईशशास्त्री के रूप में उन्होंने संत पापा बेनेडिक्ट 16वें को करीबी से सहयोग दिया। वे 21 फरवरी 2001 को संत पापा फ्राँसिस के साथ कार्डिनल बनाये गये थे।

संत पापा ने प्रार्थना की कि करूणावान प्रभु येसु ख्रीस्त, जिनको कार्डिनल मरियन ने अपना जीवन अर्पित किया था उन्हें अपनी महिमा में प्रवेश पाने दे।   

संत पापा ने सभी कार्डिनलों, दफन क्रिया में भाग लेने वालों, धर्माध्यक्षों, शोकित परिवार के सदस्यों, पोलैंड एवं यूक्रेन की कलीसिया के सदस्यों को पिता, पुत्र और पवित्र आत्मा के नाम पर आशीर्वाद प्रदान किया।  

कार्डिनल मरियन जावोरस्की का जन्म 21 अगस्त 1926 को पोलैंड के लविव में हुआ था। उनका पुरोहिताभिषेक 1950 को हुआ था। उन्होंने तीन डॉक्टरेट डिग्रियाँ हासिल की थीं।

उनकी दफन क्रिया 11 सितम्बर को कालवारिया जेब्रेडोवस्का में सम्पन्न होगा। उनकी इच्छा अनुसार उन्हें कलवरी की माता मरियम की चमत्कारी तस्वीर के प्रार्थनावय में दफनाया जाएगा।

कार्डिनल मरियन के निधन के साथ कार्डिनलों की कुल संख्या 219 हो गई है जिनमें से 122 कार्डिनल संत पापा के चुनाव में भाग ले सकते हैं।

क्राकोव के महाधर्माध्यक्ष मारेक ने 6 सितम्बर को कहा कि कार्डिनल जारोवस्की संस्कृति एवं भक्ति के महान व्यक्ति थे।

"उन्होंने संत पापा जॉन पौल द्वितीय द्वारा बड़ा अधिकार एवं सम्मान प्राप्त किया। वे कुछ समय के लिए उनके पाप मोचक भी रहे। जो उनकी गहरी आध्यात्मिकता एवं आत्मा की संवेदनशीलता को प्रकट करता है जिसको वे सभी महसूस कर सकते थे जो उनसे व्यक्तिगत मुलाकात करते थे।"

08 September 2020, 16:11