खोज

Vatican News
ख्रीस्तयाग अर्पित करते संत पापा फ्राँसिस ख्रीस्तयाग अर्पित करते संत पापा फ्राँसिस  (Vatican Media)

तालाबंदी के दौरान संत पापा के उपदेश को वाटिकन ने प्रकाशित किया

वाटिकन पब्लिशिंग हाउस ने वाटिकन के संत मर्था में, संत पापा फ्राँसिस के दैनिक मिस्सा उपदेश एवं कोरोना वायरस महामारी के समय में की जानेवाली प्रार्थनाओं के संग्रह को पीडीएफ फाईल के रूप में प्रकाशित किया है जिसको डाउनलॉड किया जा सकता है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 23 जुलाई 20 (वीएनएस)- कोरोना वायरस से बीमार और तालाबंदी या अन्य कारणों से घर से बाहर नहीं निकल पानेवाले लोगों के प्रति अपने सामीप्य के चिन्ह स्वरूप, संत पापा फ्राँसिस ने इटली में तालाबंदी शुरू होने के साथ, अपने प्रतिदिन के मिस्सा बलिदान को लाईव प्रसारित करना शुरू किया था।    

संत पापा के ख्रीस्तयाग को 9 मार्च से 18 मई तक हर सुबह पूरे विश्व के लिए सीधे प्रसारित किया गया था। हजारों लोगों (विभिन्न धर्मों) ने वाटिकन के विभिन्न संचार माध्यमों द्वारा मिस्सा को देखा और सुना। अनेक लोगों के लिए यह कोरोना वायरस महामारी और उसके प्रभावों से मुकाबला करने का मुख्य साधन बन गया था।  

संत पापा के उपदेश का डिजिटल संस्करण

वाटिकन न्यूज के यूट्यूब चैनल और वेब पोर्टल के माध्यम से पोप फ्रांसिस ख्रीस्तयाग एवं उपदेशों को लोगों के लिए सुलभ बनाया गया। उन उपदेशों का पूरा संकलन डिजिटल फाईल में उपलब्ध है जिसको डाऊनलोड किया जा सकता है।

संकलन का शीर्षक है – "विपत्ति के सामने दृढ़ : एकजुटता में कलीसिया - विपत्ति काल में एक ठोस सहायता"। लेख में आशीष और प्रार्थनाएँ भी हैं और 27 मार्च की वह प्रार्थना भी शामिल है जिसको संत पापा फ्राँसिस ने असाधारण रूप से की थी। इसमें कोरोना वायरस महामारी से उत्पन्न परिस्थिति में विशेष दण्डमोचन के लिए प्रेरितिक पश्चाताप की आज्ञप्ति भी है।

संत पापा के शब्द मूल्यवान

लिब्रेरिया एदीत्रिचे वाटिकाना (वाटिकन पब्लिशिंग हाउस) के संपादकीय निदेशक फादर जुलियो चेसारेओ ने रेखांकित किया कि संत पापा फ्राँसिस के उपदेश कितने महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने कहा, "वे एक पिता हैं, एक आध्यात्मिक मार्गदर्शन जिन्होंने उस परिस्थिति में जीते हुए हमारा साथ दिया। उनके उपदेश मूल्यवान हैं क्योंकि वे सिर्फ उस समय के लिए मान्य नहीं थे। हम अब भी तनाव, शर्म एवं प्रार्थना में कठिनाई महसूस करते हैं। शायद हम उस समय अधिक ग्रहणशील और चौकस थे जब उन्होंने बतलाया था किन्तु यह महत्वपूर्ण है कि हम उनके शब्दों को अपने साथ रखें ताकि जीवन के बारे जो सुन्दर बातें कहीं हैं उनसे लागातार पोषित होते रहें।"  

संत पापा के उपदेश का प्रिंट संस्करण

संतं पापा के पवित्र मिस्सा के स्थगन के कारण अनेक पाठकों ने आग्रह किया कि इसका पीडीएफ संस्करण तैयार किया जाए जिसको छापा जा सके। इस प्रकार एक बुकलेट रह जाएगा जिसने "कोरोनोवायरस महामारी के पहले चरण में विश्वास के माध्यम से हमारा साथ दिया" इसने इस विनाशकारी समय में पोप फ्रांसिस और हमारे प्रभु दोनों से हमारी घनिष्ठता को बनाए रखा।

"विपत्ति के सामने दृढ़ : एकजुटता में कलीसिया" का डिजिटल संस्करण इस लिंक के द्वारा सीमित समय के लिए प्राप्त किया जा सकता है। छापा गया संस्करण Amazon.com और प्रकाशन के अधिकार प्राप्त अन्य प्रकाशनों द्वारा भी प्राप्त किया जा सकेगा।

23 July 2020, 16:15