खोज

Vatican News
वाटिकन वाटिकन सिटी  (AFP or licensors)

वाटिकन में कोविड -19 से संक्रमित लोगों की संख्या बढ़ी

वाटिकन प्रेस कार्यालय ने वाटिकन में कोरोना वायरस या कोविड -19 से संक्रमित चार मामलों की पुष्टि की है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बृहस्पतिवार, 26 मार्च 20 (रेई) : वाटिकन में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या एक से बढ़कर चार हो गई है।

वाटिकन प्रेस कार्यालय के निदेशक मत्तेओ ब्रुनी ने मंगलवार को इस बात की पुष्टि देते हुए कहा, “इस समय कोरोना वायरस से चार लोग संक्रमित हैं।”

वाटिकन सिटी में चार संक्रमित लोगों में, पहला मरीज भी शामिल है जिनमें 6 मार्च को कोरोना वायरस पोजेटिव पाया गया था। कोरोना वायरस के नये मामलों में एक व्यापार कार्यालय से जुड़ा कर्मचारी है और दो वाटिकन संग्रहालय में कार्य करते हैं।

ब्रुनी ने कहा, “कोविड -19 की जाँच करने से पहले एहतियाती उपाय के रूप में इन चारों लोगों को 14 दिनों तक अलग रखा गया था। इस समय उनका इलाज इटली के अस्पतालों में चल रहा है या वे अपने घरों में हैं।

स्मार्ट कार्य वाटिकन के मिशन की गारांटी

11 मार्च के प्रेस विज्ञप्ति में प्रेस कार्यालय के निदेशक ने कहा था कि संक्रमण फैलने से रोकने के लिए परमधर्मपीठ ने विभिन्न विभागों एवं उनके कर्मचारियों के कार्यों को स्थगित नहीं किया है। उन्होंने आगे कहा था कि “विभाग के अध्यक्षों को कार्य जारी रखने की जिम्मेदारी दी गयी है कि वे विश्वव्यापी कलीसिया की आवश्यक सेवाओं को जारी रखने के लिए, कार्यालय में कम से कम कर्मचारियों की उपस्थिति की व्यवस्था करें और जहाँ तक संभव हो, दूर रहकर कार्य करने को अधिक से अधिक प्रोत्साहन दें ताकि कर्मचारियों की गतिविधियों को सीमित किया जा सके और साथ ही पेट्रैन मिशन को गारांटी दिया जा सके।”    

प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया था कि “इसके अलावा, परमधर्मपीठ का कोई कर्मचारी या वाटिकन सिटी का कोई नागरिक, यदि कोरोना वायरस से संक्रमित हो जाए, तो (वाटिकन के) स्वास्थ्य या स्वच्छता निदेशालय के पास अपने स्थान के स्वास्थ्य अधिकारियों को मामले की सूचना उनके आवास या वाटिकन सिटी को, समय पर देने हेतु एक नवाचार (प्रोटोकोल) है।”

इटली के लात्सियो प्रांत जिसकी राजधानी भी रोम है, करीब 1,728 लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हैं। इटली में वायरस से संक्रमित होनेवालों की संख्या 74,386 हो गई है जिनमें से 7,503 लोगों की मौत हो चुकी है। वहीं भारत में भी इसका प्रभाव बढ़ता दिखाई पड़ रहा है। भारत में कुल 681 लोग संक्रमित हैं और उनमें से 13 लोगों की मौत हो चुकी है।

इटली एवं विश्वभर में कोरोना वायरस के बढ़ते संकट से बचने के लिए ताला बंदी की स्थिति में संत पापा फ्राँसिस (जो रोम के भी धर्माध्यक्ष हैं) संचार माध्यमों के जरिये अपने अनेक कार्यों को जारी रखे हुए हैं। इन दिनों उनके मुख्य कार्य हैं, संत मर्था में दैनिक ख्रीस्तयाग, बुधवारीय आमदर्शन समारोह और रविवार को देवदूत प्रार्थना, जिन्हें वे लोगों की उपस्थिति के बिना ही लाईव प्रसारण के माध्यम से सम्पन्न करते हैं।

26 March 2020, 16:27