खोज

Vatican News
सिनॉड सिनॉड  (AFP or licensors)

2022 में सिनॉड के धर्माध्यक्षों की विषयवस्तु, सिनॉडालिटी

"एक सिनॉडल कलीसिया के लिए ˸ एकता, सहभागिता और मिशन" को संत पापा फ्राँसिस ने आगामी धर्माध्यक्षीय धर्मसभा की विषयवस्तु चुना है।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार, 7 मार्च 2020 (रेई)˸ शनिवार को प्रकाशित एक औपचारिक घोषणा में धर्माध्यक्षों की धर्मसभा के महासचिव कार्डिनल लोरेंत्सो बलदिस्सेरी ने घोषित किया कि अक्टूबर 2022 में संत पापा फ्राँसिस धर्माध्यक्षों के धर्मसभा की XVI महासभा का आह्वान करेंगे। इसकी विषयवस्तु होगी, "सिनॉडल कलीसिया के लिएः एकता, सहभागिता एवं मिशन।"  

सिनॉडालिटीः तीसरी शताब्दी में कलीसिया का रास्ता

संत पापा फ्राँसिस के परमाध्यक्षीय काल में सिनॉडालिटी का मुद्दा अहम है। अक्टूबर 2015 को संत पापा पौल 6वें द्वारा सिनॉड की स्थापना की 50वीं वर्षगाँठ के अवसर पर संत पापा फ्राँसिस ने कहा था, "रोम के धर्माध्यक्ष के रूप में मेरी प्रेरिताई के शुरू से ही मैंने सिनॉड को बढ़ाने की कोशिश की है जो द्वितीय वाटिकन महासभा की एक महान धरोहर है...सिनॉडालिटी का यही रास्ता है जिसकी आशा ईश्वर तीसरी शताब्दी की कलीसिया से करते हैं।"

2018 में अंतरराष्ट्रीय ईशशास्त्रीय आयोग से बातें करते हुए संत पापा ने कहा था कि "सिनॉडालिटी का मुद्दा मेरे हृदय के अत्यन्त करीब है, सिनॉडालिटी एक शैली है, एक साथ चलना है और यही वह रास्ता है जिसकी उम्मीद प्रभु तीसरी शताब्दी की कलीसिया से करते हैं।"

एकता को बढ़ावा एवं पोप की सहायता

धर्माध्यक्षीय धर्मसभा की स्थापना संत पापा पौल षष्ठम द्वारा द्वितीय वाटिकन महासभा के अंत में की गयी थी। काथलिक कलीसिया के कानून अनुसार सिनॉड, "धर्माध्यक्षों का एक दल है जो विश्व के विभिन्न प्रांतों से चुने जाते हैं तथा एक निर्धारित समय पर एक साथ मिलते हैं ताकि रोमी परमाध्यक्ष एवं धर्माध्यक्षों के बीच एकता बढ़े। वे रोमी परमाध्यक्ष एवं उनकी समिति को विश्वास एवं नैतिकता की रक्षा तथा विकास में सहयोग देते, कलीसियाई नियमों पर ध्यान देते एवं सुदृढ़ करते और दुनिया में कलीसिया की गतिविधि से संबंधित सवालों पर विचार करते हैं।"  

सामान्यतः सिनॉड के धर्माध्यक्ष आमसभा के लिए हर 3-4 सालों में मिलते हैं किन्तु संत पापा के निर्णय पर असाधारण सभाएँ भी बुलायी जा सकती हैं।

सिनॉड के धर्माध्यक्षों की असाधारण सभा 2014 में बुलायी गयी थी जिसकी विषयवस्तु थी, "सुसमाचार की पृष्टभूमि पर परिवार की प्रेरितिक चुनौतियाँ।" उसके एक साल बाद साधारण असाधारण सभा बुलायी गयी, जिसकी विषयवस्तु थी, परिवार की बुलाहट एवं मिशन, कलीसिया एवं समकालीन दुनिया में। 2018 में आयोजित साधारण आमसभा में "युवा, विश्वास और बुलाहटीय आत्मजाँच" पर ध्यान केंद्रित किया गया था।

अक्टूबर 2019 में संत पापा फ्राँसिस द्वारा आयोजित सबसे हाल का सिनॉड है जो पान – अमाजोन क्षेत्र के लिए एक असाधारण सिनॉड थी। इस सिनॉड में उस क्षेत्र की ईश प्रजा के लिए सुसमाचार प्रचार के नये रास्तों की खोजने करने का प्रयास किया गया।  

 

07 March 2020, 17:00