खोज

Vatican News
शुक्रवार को वाटिकन विदेश सचिव महाधर्माध्यक्ष पौल रिचार्ड गल्लाघर, चीन के विदेश मंत्री वांग यी से मुलाकात करते हुए शुक्रवार को वाटिकन विदेश सचिव महाधर्माध्यक्ष पौल रिचार्ड गल्लाघर, चीन के विदेश मंत्री वांग यी से मुलाकात करते हुए 

वाटिकन एवं चीन, शांति वार्ता की राह पर

जर्मनी के म्यूनिख शहर में सुरक्षा सम्मेलन में भाग ले रहे, वाटिकन विदेश सचिव महाधर्माध्यक्ष पौल रिचार्ड गल्लाघर ने चीन के विदेशमंत्री वांग यी से मुलाकात की।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शनिवार, 15 फरवरी 2020 (रेई)˸ वार्षिक म्यूनिख सुरक्षा सम्मेलन की शुरूआत शुक्रवार को हुई जिसमें विभिन्न राष्ट्रों के 35 नेता भाग ले रहे हैं। सम्मेलन में कई देशों के उच्च स्तरीय राजनयिक प्रतिनिधि भी भाग ले रहे हैं। इसी सिलसिले में शुक्रवार को वाटिकन विदेश सचिव महाधर्माध्यक्ष पौल रिचार्ड गल्लाघर की मुलाकात चीन के विदेश मंत्री वांग यी से हुई।  

वाटिकन प्रेस कार्यालय द्वारा जारी वक्तव्य में कहा गया है कि वाटिकन राज्य सचिवालय से मिली जानकारी अनुसार दोनों पक्षों के बीच मुलाकात सौहार्दपूर्ण रही, जिसमें उन्होंने वाटिकन एवं चीन के बीच संबंध पर चर्चा की जो समय के साथ सकारात्मक रूप से विकसित हुआ है।

गौरतलब है कि इस तरह की आधिकारिक मुलाकात पिछले 70 सालों में पहली बार हुई है।   

वाटिकन विदेश सचिव एवं चीनी विदेश मंत्री ने पिछले 22 सितंबर को हस्ताक्षरित धर्माध्यक्षों की नियुक्ति पर अनंतिम समझौते के महत्व पर प्रकाश डाला तथा काथलिक कलीसिया के जीवन और चीनी लोगों की भलाई को बढ़ावा देने के लिए द्विपक्षीय स्तर पर संस्थागत संवाद को जारी रखने की इच्छा को नवीनीकृत की।

वक्तव्य में कहा गया है कि "कोरोना वायरस महामारी को दूर करने के प्रयासों की सराहना की गयी और साथ ही साथ, इससे प्रभावित लोगों के प्रति सहानुभूति प्रकट की गयी।"  

अंततः दोनों पक्षों ने विश्व में शांति स्थापित करने हेतु अधिक अंतरराष्ट्रीय सहयोग की इच्छा जाहिर की तथा अंतर-सांस्कृतिक संवाद एवं मानव अधिकार के प्रति भी चिंता व्यक्त की।

कोरोना वायरस महामारी से प्रभावित लोगों के लिए संत पापा फ्राँसिस ने बुधवार को आमदर्शन समारोह के दौरान प्रार्थना अर्पित की थी। उन्होंने चीन के लोगों के प्रति अपना आध्यात्मिक सामीप्य प्रकट किया था एवं विश्वासियों का आह्वान किया था कि वे चीन के भाई–बहनों के लिए प्रार्थना करें जो कोरोना वायरस की क्रूर महामारी से पीड़ित हैं। उन्होंने उम्मीद जतायी थी कि महामारी से पीड़ित सभी लोगों को जल्द से जल्द स्वस्थलाभ प्राप्त कराने का रास्ता खोज निकाला जा सकेगा।    

 

15 February 2020, 16:29