खोज

Vatican News
कार्डिनल परिषद के साथ संत पापा फ्राँसिस कार्डिनल परिषद के साथ संत पापा फ्राँसिस 

कार्डिनल परिषद ने नये प्रेरितिक संविधान का पुनः अवलोकन किया

कार्डिनल परिषद ने नये प्रेरितिक संविधान का पुनः अवलोकन किया वाटिकन सिटी, बुधवार, 19 फरवरी 2020 (रेई)˸ कार्डिनल परिषद की 33वीं सभा में नये दस्तावेज का पुनः अध्ययन किया गया, जिसे "पास्तेर बोनुस" के स्थान पर लिया जाएगा।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

कार्डिनल परिषद की सभा पुनः इस सप्ताह वाटिकन में सम्पन्न हुई। वाटिकन प्रेस कार्यालय द्वारा जारी विज्ञप्ति अनुसार, सभा में कार्डिनल पियेत्रो परोलिन, कार्डिनल ऑस्कार ए. रोड्रिगेज मरागियागा, कार्डिनल रेनहार्ड मार्क्स, कार्डिनल सीन पैट्रिक ओ माल्ले, कार्डिनल जुसेप्पे बेरतेल्लो और कार्डिनल ऑस्वल्ड ग्रेसियस उपस्थित थे। उनके साथ समिति के सचिव महाधर्माध्यक्ष मर्चेल्लो सेमेरारो और उप-सचिव धर्माध्यक्ष मार्को मेल्लिनो भी उपस्थित थे।

संत पापा फ्राँसिस बुधवार सुबह को आमदर्शन समारोह के कारण अनुपस्थित होने के अलावे बाकी सभी समय सभा में उपस्थित रहे। अंतिम सत्र बुधवार के दोपहर को सम्पन्न हुआ जिसमें भी संत पापा उपस्थित रहे।  

परमाध्यक्षीय रोमी कार्यालय के नये प्रेरितिक संविधान का लेख, विभिन्न विभागों एवं विशेषज्ञों द्वारा प्रदान किये गये सहयोग के प्रकाश में पुनरीक्षित तथा समिति द्वारा गहराई से पुनः अवलोकन किया गया कार्य है। कार्डिनलों ने रोम के उन कार्डिनलों की राय पर भी ध्यान दिया है जो अपनी राय नहीं रख पाये थे।     

नये दस्तावेज का अध्ययन अगली सभा में भी जारी रहेगा जो अप्रैल में होगी।

 

19 February 2020, 17:28