खोज

Vatican News
आम दर्शन समारोह के अवसर पर धूप से बचते कार्डिनलगण, 26.06.2019 आम दर्शन समारोह के अवसर पर धूप से बचते कार्डिनलगण, 26.06.2019  (ANSA)

प्रेरितिक संविधान पर कार्डिनलों की सभा सम्पन्न

वाटिकन में मंगलवार से गुरुवार तक "प्रेदिकाते एवान्जेलियुम" अर्थात् सुसमाचार का प्रचार करो शीर्षक से विचाराधीन काथलिक कलीसिया के नवीन प्रेरितिक संविधान पर कार्यरत कार्डिनलों की 30 वीं बैठक जारी रही जिसकी अध्यक्षता सन्त पापा फ्राँसिस ने की।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 28 जून 2019 (रेई, वाटिकन रेडियो):  वाटिकन में मंगलवार से गुरुवार तक "प्रेदिकाते एवान्जेलियुम" अर्थात् सुसमाचार का प्रचार करो शीर्षक से विचाराधीन काथलिक कलीसिया के नवीन प्रेरितिक संविधान पर कार्यरत कार्डिनलों की 30 वीं बैठक जारी रही जिसकी अध्यक्षता सन्त पापा फ्राँसिस ने की।

"प्रेदिकाते एवान्जेलियुम"    

नवीन प्रेरितिक संविधान में, विशेष रूप से, परमधर्मपीठीय कार्यालयों में सुधार पर ध्यान केन्द्रित किया गया।

"प्रेदिकाते एवान्जेलियुम" शीर्षक से नवीन प्रेरितिक संविधान के मूल पाठ का प्रारूप कार्डिनलों की समिति द्वारा अनुमोदित हो चुका था तथा इसे विश्व के विभिन्न धर्माध्यक्षीय सम्मेलनों, पूर्वी रीति की कलीसियाओं की धर्मसभाओं, परमधर्मपीठीय कार्यालयों, धर्मसमाज प्रमुखों के सम्मेलनों तथा परमधर्मपीठीय विश्व विद्यालयों को प्रेषित किया गया था, जिनसे अपने सुझावों का आग्रह किया गया था।   

"प्रेदिकाते एवान्जेलियुम" सन् 1988 से प्रभावी "पास्तेर बोनुस" अर्थात् भले गड़ेरिये संविधान की जगह लेगा जिसकी रचना सन्त पापा जॉन पौल द्वितीय ने की थी। इसमें सन्त पापा बेनेडिक्ट 16 वें तथा सन्त पापा फ्राँसिस के संशोधन और परिवर्धन भी शामिल हैं।

विश्व के छः कार्डिनल बैठक में

मंगलवार से गुरुवार तक जारी रही कार्डिनलों की बैठक में वाटिकन राज्य सचिव कार्डिनल पियेत्रो पारोलीन, कार्डिनल ऑस्कर आन्द्रेस माराडिगा, कर्डिनल राईनर्ड मार्क्स, कार्डिनल शॉन ओमाली, कार्डिनल जुसेप्पे बेरतेल्लो तथा मुम्बई के महाधर्माध्यक्ष कार्डिनल ऑस्वल्ड ग्रेशियस ने भाग लिया।   

परमधर्मपीठीय कार्यालयों की मिशनरी अभिमुखता, कलीसिया में सभी स्तरों पर सहयोग तथा परमधर्मपीठीय समितियों में महिलाओं की भूमिका को प्रोत्साहन अतीत की बैठकों के प्रमुख विषय रहे हैं।    

28 June 2019, 11:28