Cerca

Vatican News
स्पेन में पशुओं की आशीष स्पेन में पशुओं की आशीष  (AFP or licensors)

सन्त पेत्रुस महागिरजाघर प्राँगण के बाहर पशुओं को आशीर्वाद

वाटिकन स्थित सन्त पेत्रुस महागिरजाघर के प्राँगण के बाहर गुरुवार को सन्त अन्तोनी आबाते के पर्व के उपलक्ष्य में खेत में काम आनेवाले पशुओं को महागिरजाघर के महापुरोहित कार्डिनल आन्जेलो कोमास्त्री ने आशीर्वाद प्रदान किया।

जूलयट जेनेवीव क्रिस्टफर-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, शुक्रवार, 18 जनवरी 2019 (रेई, वाटिकन रेडियो): वाटिकन स्थित सन्त पेत्रुस महागिरजाघर के प्राँगण के बाहर गुरुवार को सन्त अन्तोनी आबाते के पर्व के उपलक्ष्य में खेत में काम आनेवाले पशुओं को महागिरजाघर के महापुरोहित कार्डिनल आन्जेलो कोमास्त्री ने आशीर्वाद प्रदान किया .  

प्रकृति के साथ जीवन यापन

ष्रतिवर्ष 17 जनवरी को मनाये जानेवाले सन्त अन्तोनी अबाते यानि मिस्र के सन्त अन्तोनी के पर्व दिवस पर पशुओं को आशीष प्रदान की जाती है. तीसरी शताब्दी के सन्त अन्तोनी ने मिस्र की एक मरूभूमि में कठोर जीवन यापन किया था. अधना अधिकांश जीवन प्रकृति के साथ व्यतीत करने के लिये मिस्र के सन्त अन्तोनी अबाते को यूरोप में पशुओं का संरक्षक सन्त माना जाता है.

गुरुवार को सम्पूर्ण इटली के किसान अपने जानवरों को आशीर्वाद के लिए वाटिकन ले आये थे जिनमें घोड़े, गधे, गायें, सूअर, मुर्गियाँ, भेड़ें, बकरीयाँ, बत्तखें और खरगोश सभी शामिल थे.

यथार्थ समृद्धि ईश्वर

इटली के कृषि संगठन द्वारा आयोजित इस आशीर्वाद समारोह में कृषकों को सम्बोधित कर कार्डिनल कोमास्त्री ने कहा कि सन्त अन्तोनी ने इस बात को भली भाँति समझ लिया था कि जीवन की यथार्थ समृद्धि ईश्वर हैं तथा यह कि येसु ख्रीस्त में स्वयं ईश्वर हमसे मुलाकात हेतु प्रकट हुए हैं.  

उन्होंने कहा, "यह एक चिन्ह है कि कृषि जीवन जो दैनिक श्रम से जुड़ा है सर्वाधिक स्वस्थ जीवन है तथा ईश्वर के समीप है और जब लोग ईश्वर के निकट होते हैं तब उन्हें किसी बात की चिन्ता करने की ज़रूरत नहीं पड़ती है."

18 January 2019, 11:48