खोज

Vatican News
संत पापा फ्राँसिस संत पापा फ्राँसिस  

फरवरी में “कलीसिया में नाबालिगों की सुरक्षा" बैठक

आयोजन समिति ने कलीसिया में नाबालिगों की सुरक्षा पर फरवरी की बैठक के प्रतिभागी धर्माध्यक्षों को पत्र भेजकर अपने देशों में यौन दुर्व्यवहार पीड़ितों से मिलने के लिए आमंत्रित किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

रोम, बुधवार 19 दिसम्बर 2018 (वाटिकन न्यूज) : "कलीसिया में नाबालिगों की सुरक्षा" बैठक की आयोजन समिति के चार सदस्यों ने विभिन्न देशों के धर्माध्यक्षीय सम्मेलनों के अध्यक्षों को पत्र लिखकर आग्रह किया है कि जो धर्माध्यक्ष फरवरी को रोम में होने वाली बैठक में भाग लेने वाले हैं उन्हें अपने देश में पुरोहितों द्वारा यौन शोषण पीड़ितों से मुलाकात करना है ताकि वे पीड़ितों की पीड़ा को जान सकेंगे जिसे उन्होंने सहन किया है।"

आयोजन समिति में कार्डिनल ब्लेज़ जे. कुपिच, कार्डिनल ओसवाल्ड ग्रेसियस, महाधर्माध्यक्ष चार्ल्स जे. स्किकलुना और फादर हंस ज़ोलनर एस.जे. हैं।

21-24 फरवरी तक बैठक

संत पापा फ्राँसिस ने पूरे विश्व के धर्माध्यक्षीय सम्मेलन के अध्यक्षों के लिए वाटिकन में 21-24 फरवरी तक बैठक का आयोजन किया है।

अपने पत्र में, आयोजकों ने प्रतिभागियों को "एकजुटता, नम्रता और किए गए नुकसान की मरम्मत हेतु पश्चाताप, पारदर्शिता के लिए एक आम प्रतिबद्धता साझा करने और कलीसिया में सभी को जिम्मेदार ठहराते हुए एक साथ आने हेतु आमंत्रित किया है।"

पत्र में उन्होंने लिखा, "संत पापा ने हमें बैठक की बेहतर तैयारी के लिए संलग्न प्रश्नावली को पूरा करने में आपके सहयोग के लिए धन्यवाद देने को कहा है और आपको तुरंत इस मुद्दे पर काम करने हेतु सहृदय आमंत्रित किया है। संत पापा इस बात से आश्वस्त हैं कि औपचारिक सहयोग के माध्यम से, कलीसिया जिन चुनौतियों और समस्याओं से जूझ रही है उनका सामना किया जा सकेगा।"

प्रेस कार्यालय के निदेशक ग्रेग बर्क 

वाटिकन के प्रेस कार्यालय के निदेशक ग्रेग बर्क ने एक अलग बयान में कहा कि दुर्व्यवहार पीड़ितों के साथ बैठक "उनके साथ हुए भयानक कृत्य को स्वीकार करते हुए पीड़ितों को पहले स्थान में रखने का एक ठोस तरीका है। उन्होंने कहा कि नाबालिगों की सुरक्षा पर बैठक तीन मुख्य विषयों पर ध्यान केंद्रित करेगी: "जिम्मेदारी, उत्तरदायित्व और पारदर्शिता।"

19 December 2018, 16:01