Cerca

Vatican News
इटली के युवाओं के साथ संत पापा इटली के युवाओं के साथ संत पापा  (ANSA)

सिनॉड में युवाओं की आशा

संत पापा फ्राँसिस बुधवार को ख्रीस्तयाग द्वारा धर्माध्यक्षीय धर्मसभा का उद्घाटन करेंगे। इस धर्मसभा से युवाओं को क्या उम्मीद है, इस पर स्कोटलैंड के ग्लासगो महाधर्मप्रांत के युवा अधिकारी सीन डीएगहान ने अपने विचार प्रस्तुत किये।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

सीन डीएगहान ने कहा कि कलीसिया उनके लिए विश्वास को इस तरह प्रस्तुत करे कि उसे प्राप्त किया जा सके।

विश्वभर के धर्माध्यक्ष वाटिकन में सिनॉड में भाग लेने हेतु एकत्रित हैं जो युवाओं की समस्याओं पर विशेष ध्यान देंगे। पूरे अक्टूबर माह में जारी सिनॉड में कलीसिया काथलिक युवाओं के विश्वास का विशेष रूप से समर्थन करना चाहती है तथा उन मुद्दों पर बात करना चाहती है जो उनसे संबंधित हैं ताकि वे नई पीढ़ी के आदर्श नेता बन सकें। इस साल के मार्च महीने में विश्वभर के युवा प्रतिनिधियों ने सिनॉड के पूर्व की सभा में भाग लिया था जिनमें से एक थे सीन डीएगहान।

युवाओं का आदर्शवाद  

सीन डीएगहान ने कहा कि कलीसिया को युवाओं के आदर्शवाद में प्रवेश करने की आवश्यकता है तथा उनके सामने विश्वास को इस तरह प्रस्तुत करना है कि वह उसे प्राप्त कर सके। उन्होंने कहा, “मैं सोचता हूँ कि दस्तावेजों को गैरसरकारी संगठन के घोषणापत्र के समान नहीं होना चाहिए बल्कि विश्वास की सच्चाई का प्रचार करता हुआ होना चाहिए।”

युवाओं पर सिनॉड आयोजित किये जाने का क्या यह उपयुक्त समय है? इसके उत्तर में युवा प्रतिभागी ने कहा कि ऐसे समय में जब अनेक युवा गलत कारणों से कलीसिया को छोड़ रहे हैं, मैं सोचता हूँ कि यह एक अत्यन्त महत्वपूर्ण समय है कि हम सोच-विचार कर सकें कि युवाओं को  सुसमाचार की शिक्षा किस तरह दी जाए कि वे उसे समझ सकें। परिणाम स्वरूप कम युवा कलीसिया से दूर जायेंगे।

सीन ने कहा कि युवा उस समय कलीसिया की सराहना करते हैं जब कलीसिया साहसी एवं निर्भीक होती है। उन्होंने कहा कि सिनॉड निश्चय ही सच्चाई को प्रमाणिक रूप में प्रकट करने का अवसर प्रदान करेगा।

 

02 October 2018, 18:14