खोज

खारकीव के यूक्रेनी खारकीव के यूक्रेनी  (ANSA)

संत पापाः यूक्रेन में इतिहास आज स्वयं को दोहरा रहा है

बुधवार की आम दर्शन समारोह में, संत पापा फ्राँसिस ने टिप्पणी की कि द्वितीय विश्व युद्ध की भयावहता आज यूक्रेन में फिर से मंडरा रही है और 8 दिसंबर को कुँवारी मरिया के निष्कलंक गर्भाधान पर्व से पहले, युद्ध की क्रूरता सह रहे पीड़ितों को आराम देने के लिए ईश्वर की माँ से प्रार्थना करने हेतु सभी विश्वासियों का आह्वान किया।

माग्रेट सुनीता मिंज-वाटिकन सिटी

वाटिकन सिटी, बुधवार 07 दिसंबर 2022 (वाटिकन न्यूज) : संत पापा पॉल षष्टम सभागार में अपने साप्ताहिक आम दर्शन समारोह के दौरान, संत पापा फ्राँसिस ने यूक्रेन में चल रहे युद्ध को फिर से याद किया। पोलिश तीर्थयात्रियों को संबोधित करते हुए, उन्होंने कहा, "इतिहास आज खुद को दोहरा रहा है!" पोलैंड में काथलिक यूनिवर्सिटी ऑफ ल्यूबेल्स्की के काथलिक-यहूदी मिलन केंद्र द्वारा सोमवार को आयोजित एक कार्यक्रम का जिक्र किया जहाँ, "ऑपरेशन रेनहार्ड्ट" द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान नाजियों द्वारा पोलिश यहूदियों के खिलाफ की गई तबाही को याद किया गया।

द्वितीय विश्व युद्ध की भयावहता

1942 और 1943 के बीच यहूदी लोगों के खिलाफ नरसंहार करने के नाजी जर्मनी के प्रयास के सबसे घातक चरण को चिह्नित किया। कुल मिलाकर, लगभग 1.7 मिलियन यहूदियों की बेल्ज़ेक, सोबिबोर और ट्रेब्लिंका संहार शिविरों में और संबंधित सामूहिक गोलीबारी में हत्या कर दी गई थी।

ऑपरेशन रेइनहार्ड शिविरों के पीड़ितों में अज्ञात संख्या में पोलिश, रोमा और युद्ध के सोवियत कैदी भी शामिल थे। संत पापा ने कहा, "इस भयानक घटना की स्मृति सभी में शांति के लिए संकल्प और कार्यों को जाग्रत करे।"

पीड़ित यूक्रेन के लिए प्रार्थना

संत पापा फ्राँसिस ने उपस्थित इतालवी तीर्थयात्रियों को अपने अभिवादन में यूक्रेन में युद्ध का भी उल्लेख किया। 8 दिसंबर, गुरुवार को कुँवारी मरिया के निष्कलंक गर्भाधान पर्व का उल्लेख करते हुए, संत पापा ने विश्वासियों को "युद्ध की क्रूरता" और विशेष रूप से "पीड़ाग्रस्त यूक्रेन" के पीड़ितों को अनंत विश्राम देने के लिए ईश्वर की माँ से प्रार्थना करने का आह्वान किया।

 

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

07 December 2022, 14:40