खोज

वाटिकन रेडियो के पूर्व तकनीकी निदेशक जेस्विट फादर साबिनो माफेओ वाटिकन रेडियो के पूर्व तकनीकी निदेशक जेस्विट फादर साबिनो माफेओ   (https://gesuiti.it/)

फादर माफेओ को 100वें जन्म दिवस पर पोप की शुभकामनाएँ

संत पापा फ्राँसिस ने वाटिकन रेडियो के पूर्व तकनीकी निदेशक जेस्विट फादर साबिनो माफेओ को उनके 100वें जन्म दिवस पर, एक पत्र भेजकर उन्हें जन्म दिवस की शुभकामनाएँ दी हैं।

उषा मनोरमा तिरकी-वाटिकन सिटी

जेस्विट फादर सबिनो माफेओ के 100वें जन्म दिवस पर मंगलवार को एक पत्र भेजकर संत पापा फ्राँसिस ने उन्हें जन्म दिवस का मुबारकबाद दिया।

संत पापा ने पत्र में लिखा, "मुझे समाचार मिला है कि 1 नवम्बर को सब संतों के पर्व दिवस के अवसर पर आप 100 साल के हो जायेंगे।"

संत पापा ने इस बात पर भी प्रकाश डाला है कि 85 साल पहले इसी दिन फादर माफेओ ने येसु समाज में प्रवेश किया था।

आनन्द और उत्सव

संत पापा ने सौ साल के इस जन्म दिवस में भाग ले पाने के लिए अपनी खुशी एवं आध्यात्मिक सांत्वना व्यक्त की है, तथा ईश्वर को धन्यवाद दिया है जिन्होंने फादर माफेओ को बुलाया ताकि वे एक येसु समाजी के रूप में सब कुछ में प्रेम और सेवा कर सकें।  

उन्होंने कहा कि जो लोग इस येसु समाजी पुरोहित को जानते हैं वे बतला सकते हैं कि उन्होंने संत इग्नासियुस के शब्दों, "ईश्वर के हाथों में एक विश्वासी साधन के रूप में, बड़े, आनन्द, उदारता और सेवा की भावना से जीया।"

सेवा का लम्बा जीवन

अपने जीवन के लम्बे सफर में फादर माफेओ ने बड़ी जिम्मेदारी की प्रेरिताई को अपनाया जो परमधर्मपीठ से जुड़ी है।  

येसु समाज के रोमी प्रोविंस की सेवा (1968-1973) करने के बाद वे वाटिकन रेडियो (1973-1985) में तकनीकी निदेशक के रूप में नियुक्त हुए। उसके बाद उन्हें परमधर्मपीठ में दूसरी जिम्मेदारी मिली, कास्तेल गांदोलफो में वाटिकन स्पेकोला में, पहले एक सहायक निदेशक के रूप में और बाद में एक इतिहासकार एवं एक कार्यकर्ता के रूप में। (1985-2017)  

कलीसिया और समाज के लिए प्रार्थना

वर्तमान में फादर माफेओ येसु समाजी समुदाय के संत पीटर कनिसियो आवास में रह रहे हैं, जहाँ बीमार और बुजूर्ग येसु समाजियों के लिए स्वास्थ्य देखभाल की सुविधा उपलब्ध है।

संत पापा ने गौर किया कि फादर माफेओ को समुदाय में रहते हुए कलीसिया एवं समाज के लिए प्रार्थना करने की जिम्मेदारी प्राप्त है। संत पापा ने फादर माफेओ से आग्रह किया कि वे उनके लिए भी प्रार्थना करें क्योंकि वे प्रार्थना की शक्ति पर विश्वास करते हैं जैसा कि संत अगुस्टीन कहते है, प्रार्थना "मनुष्यों की शक्ति एवं ईश्वर की कमजोरी है।"     

उन्होंने कहा, "बड़ी खुशी के साथ, आपके जीवन के इस सौ वर्ष में सर्वशक्तिमान ईश्वर ने जो महान कार्य किये हैं उसके लिए धन्यवाद देने हेतु में आपके साथ शामिल होता हूँ।"  

अपने पत्र के अंत में संत पापा ने कलीसिया की माता मरियम की मध्यस्थता द्वारा ईश्वर से फादर माफेओ के लिए प्रचुर आशीष की याचना की है।

Thank you for reading our article. You can keep up-to-date by subscribing to our daily newsletter. Just click here

01 November 2022, 16:48